वीआरएस के लिए कम वक्त

अनूप रॉय और अभिजित लेले | मुंबई Mar 22, 2017 09:20 PM IST

भारतीय स्टेट बैंक में सहयोगी बैंकों के विलय के पहले उनके कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना लाई गई है, जिसकी अंतिम तिथि बहुत कम है। स्टेट बैंंक आफ पटियाला की ओर से लाई गई वीआरएस योजना में कर्मचारियों से कहा गया है कि वे इस पेशकश को 22 मार्च से 5 अप्रैल के 15 दिन के भीतर स्वीकार कर लें। 12 अप्रैल तक अगले 7 दिन आवेदन वापस लेने हेतु दिए जाएंगे। बैंक के एक कर्मचारी ने कहा कि दिया गया वक्त बहुत कम है।
बैंक के एक नाराज कर्मचारी ने कहा- जब भी वीआरएस योजना पेश की गई है, यह कम से कम 45 दिन प्रभावी रहती थी। बहरहाल अब हमारे लिए सिर्फ 15 दिन का वक्त है। स्टेट बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि योजना की घोषणा सिर्फ औपचारिक संचार है। बैंक इस मसले पर कर्मचारियों व उनके एसोसिएशनों के संपर्क में था।
इस योजना के लिए शर्तो पर पहले ही चर्चा हो चुकी है और वीआरएस पर फैसला लेने के लिए खास वक्त दिए जाने का कोई नियम नहीं है। अधिकारी के मुताबिक करीब 12,500 कर्मचारी इस योजना का लाभ उठा सकते हैैं, जो सहयोगी बैंकों के कुल कर्मचारियों का 17 प्रतिशत है। स्टेट बैंक आफ पटियाला की ओर से जारी और सभी शाखाओं को भेजे गए पत्र के मुताबिक स्टेट बैंंक द्वारा अन्य सभी बैंकों के अधिग्रहण का काम 1 अप्रैल तक पूरा कर लिया जाएगा, ऐसे में कर्मचारियों को वीआरएस योजना की पेशकश की गई है, जो सेवानिवृत्त होना चाहते हैं या उन्होंने अन्य जगह संभावना तलाशने पर विचार किया है। वीआरएस योजना सिर्फ उनके लिए उपलब्ध होगी जिन्होंने 28 फरवरी 2017 तक नौकरी के 20 साल पूरे कर लिए हैं या उनकी आयु 55 प्रतिशत हो चुकी है।

बैंक यूनियन करेंगे लाभ में कटौती मसले पर बैठक
बैंक यूनियनों  की बैठक 24 मार्च को कोलकाता में होगी। यूनियनेंं सरकार की ओर से बैंकों  के कर्मचारियों के लाभों में कटौती करने के  निर्देशों के विरोध में आगे की रणनीति बनाने पर चर्चा करेंगे। हाल ही मेंं सरकार ने 10 बैंकों को पत्र लिखकर उन्हें पुनरुत्थान के लिए खाका बनाने को कहा है। पत्र में यह भी कहा गया है कि कर्मचारियों के कुछ लाभों को अस्थायी रूप से पुनर्गठित किया जाना चाहिए। आल इंडिया बैंक इम्लाई एसोसिएशन ने बैठक का आयोजन किया है। बैठक में सि पैसले पर चर्चा के बाद बैंक संगठन आगे की कार्रवाई तय करेंगे।     बीएस

कीवर्ड SBI, employees, VRS,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक