इंडियन बैंक का लाभ 278 फीसदी बढ़ा

टी ई नरसिम्हन | चेन्नई Apr 25, 2017 09:34 PM IST

इंडियन बैंक का शुद्ध लाभ 31 मार्च 2017 को समाप्त तिमाही में 278.39 फीसदी की उछाल के साथ 319.40 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो पहले 84.49 करोड़ रुपये रहा था। बैंक एफपीओ लाने की योजना बना रहा है। नियम के मुताबिक सरकार को अपनी हिस्सेदारी घटाकर 75 फीसदी पर लाना जरूरी है। अभी सरकार की हिस्सेदारी इस बैंक में 82 फीसदी है। बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ किशोर कारत ने कहा, हम एफपीओ लाने पर विचार करेंगे और करीब 1,000-1,200 करोड़ रुपये जुटा सकते हैं। उन्होंने कहा कि इससे बैंक को कारोबार में इजाफा करने में मदद मिलेगी। चौथी तिमाही के नतीजे पर उन्होंने कहा कि शुद्ध ब्याज आय में इजाफा, फंडों का प्रबंधन और अन्य आय में बढ़ोतरी से नतीजे शानदार रहे। शुद्ध ब्याज आय में 22 फीसदी जबकि अन्य आय में 22-25 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई।

 
बैंक की कुल आय तिमाही के दौरान 4,601.88 करोड़ रुपये रही, जो पहले 4,512.18 करोड़ रुपये रही थी। कारत ने कहा कि बैंंक ने 2017-18 में कुल कारोबार में 11.5-12 फीसदी की बढ़ोतर का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा बैंक ने सकल एनपीए को मौजूदा 7.47 फीसदी के मुकाबले पांच फीसदी से नीचे लाने और शुद्ध एनपीए को मौजूदा 4.39 फीसदी से घटाकर 3 फीसदी से नीचे लाने का लक्ष्य तय किया है। कारत ने कहा, शुद्ध ब्याज मार्जिन 2017-18 में बढ़ाकर 3 फीसदी पर लाया जाएगा, जो अबी 2.6 फीसदी है। उन्होंने कहा, बेहतर वित्तीय अनुपात के साथ हम अपनी बढ़त की राह पर चलने के लिए तैयार हैं। अगले तीन साल के लिए उनका विजन है अच्छे बैंक से बड़ा बैंक के रूप में परिवर्तित करना।
कीवर्ड indian bank, profit,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक