मोबाइल भुगतान क्षेत्र में हुआ दमदार पीई, वीसी निवेश

टीई नरसिम्हन | चेन्नई Jun 16, 2017 09:44 PM IST

देश में बढ़ते डिजिटल लेनदेन के मद्देनजर मोबाइल भुगतान क्षेत्र में निजी इक्विटी अथवा वेंचर कैपिटल (पीई/वीसी) का निवेश 2017 के पहले पांच महीने के दौरान पिछले छह वर्षों की सर्वाधिक ऊंचाई को छू गया। जनवरी से जून तक इस क्षेत्र में 141.8 करोड़ डॉलर के चार सौदे हुए जबकि पिछले साल महज 1.5 करोड़ डॉलर के तीन सौदे हुए थे। इस साल खासकर पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस में सॉफ्टबैंक कॉरपोरेशन के निवेश से पीई/वीसी निवेश को बल मिला।
 
नकदी रहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा 8 नवंबर 2016 को शुरू की गई नोटबंदी की पहल से एक कंपनी के तौर पर पेटीएम को सबसे अधिक फायदा हुआ। मोबाइल भुगतान क्षेत्र में पिछले साढ़े छह साल के दौरान पेटीएम ने सबसे बड़ा सौदा हासिल किया। इसी साल मई में उसने सॉफ्टबैंक कॉरपोरेशन से करीब 1.4 अरब डॉलर जुटाए। अनुसंधान फर्म वेंचर इंटेलिजेंस के आंकड़ों के अनुसार, साल के दौरान दूसरा सबसे बड़ा सौदा सॉफ्टबैंक कॉरपोरेशन, आईएमएम इन्वेस्टमेंट कॉर्प, मेगा इन्वेस्टमेंट, कोरिया डेवलपमेंट बैंक और कैप्सटन पार्टनर्स द्वारा किया गया 1.5 करोड़ डॉलर का निवेश रहा।
 
दिलचस्प है कि 2011 से 2016 के बीच मोबाइल भुगतान क्षेत्र में सर्वाधिक रकम पेटीएम ने ही जुटाई। पेटीएम ने अगस्त 2016 में सैफ पार्टनर्स, अलीबाबा और मीडियाटेक से करीब 30 करोड़ डॉलर जुटाए। इन वर्षों के दौरान बड़ी रकम जुटाने वाली अन्य कंपनियों में फ्रीचार्ज डॉट इन भी शामिल है जिसने सिक्वॉया कैपिटल इंडिया, वैलिएंट कैपिटल, रु-नेट होल्डिंग्स, टाइबॉर्न कैपिटल और सोफिना से फरवरी 2015 में 8 करोड़ डॉलर जुटाए। पेटीएम ने 2014 में सैफ पार्टनर्स से 6 करोड़ डॉलर जुटाए थे जो 2011 से 2016 के बीच जुटाई गई तीसरी सबसे बड़ी रकम है। इसके अलावा मोबिक्विक, एमस्वाइप टेक्नोलॉजिज और ईजेडईटेप मोबाइल सॉल्यूशंस ने भी इस दौरान बड़ी रकम जुटाने वाली कंपनियों में शामिल हैं।
कीवर्ड paytm, nbfc, पेटीएम bank,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक