रीपो दर 0.25 प्रतिशत घटाकर की 6.0 प्रतिशत

बीएस संवाददाता/एजेंसी | नई दिल्‍ली Aug 02, 2017 03:14 PM IST

मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) ने रीपो दर 0.25 प्रतिशत घटाकर 6.0 प्रतिशत कर दी है। रिवर्स रीपो दर में भी 0.25 प्रतिशत  कटौती कर 5.75 प्रतिशत कर दी गई है। समिति ने निजी निवेश में नई जान फूंकने, बुनियादी ढांचा क्षेत्र की बाधाओं को दूर करने तथा प्रधानमंत्री आवास योजना पर विशेष जोर देने की जरूरत पर बल दिया है। रिजर्व बैंक का कहना है कि राज्यों द्वारा कृषि ऋण माफ किए जाने से राजकोषीय स्थिति पर दबाव बढ़ सकता है, सार्वजनिक व्यय की गुणवत्ता खराब हो सकती है और अंतत: मुद्रास्फीति में फिर से वृद्धि का रुख बन सकता है। बैंक ने कहा कि हम कंपनियों के फंसे बड़े कर्ज के समाधान तथा सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में नई पूंजी डालने के लिए सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। रिजर्व बैंक के गवर्नर ऊर्जित पटेल ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए वृद्धि दर के अनुमान को 7.3 प्रतिशत पर कायम रखा गया। रिजर्व बैंक के गवर्नर की अध्यक्षता में छह सदस्यीय समिति की बैठक मंगलवार को शुरू हुई थी। इस दो दिवसीय बैठक को लेकर उम्मीद की जा रही थी कि एमपीसी इस बार मुख्य नीतिगत दर रेपो में 0.25 फीसदी की कटौती करेगी।

कीवर्ड रिजर्व बैंक, गवर्नर, ऊर्जित पटेल, मौद्रिक नीति समीक्षा, एमपीसी, रेपो दर,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक