बैंकिंग में इस माह वेतन समझौते की उम्मीद कम

अभिजित लेले | मुंबई Oct 22, 2017 09:46 PM IST

इस माह के अंत तक इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) और कर्मचारी यूनियनों के बीच वेतन को लेकर समझौते की उम्मीद कम है। आगामी 24 और 27 अक्टूबर को इस सिलसिले में बैठक प्रस्तावित है। ट्रेड यूनियन के अधिकारियों ने कहा कि आईबीए के माध्यम से बैंकों को वेतन की बढ़ोतरी को लेकर अपनी तरफ से अभी पेशकश करनी है। वित्तीय मामलों (वेतन के लिए) पर 27 अक्टूबर को चर्चा होने की उम्मीद है, आईबीए इस बैठक में बढ़े वेतन की पेशकश कर सकता है। 24 अक्टूबर को होने वाली बैठक में छुट्टियों और यात्रा छुट्टियों जैसे मसलों पर बैंक प्रबंधन के साथ नियमित चर्चा होगी। 
 
बैंकिंग उद्योग के यूनियनों और एसोसिएशनों का संगठन यूनाइटेड बैंक फोरम कर्मचारियों के प्रतिनिधि के रूप में वेतन वृद्धि पर बातचीत करेगा। मौजूदा वेतन समझौते की शर्तें 31 अक्टूबर 2017 को खत्म हो रही हैं।  कर्मचारियों के यूनियन के साथ आईबीए ने 4 बैठकें की हैं और अधिकारियों के एसोसिएशन/यूनियन के साथ 2 बैठकें हो चुकी हैं। यह चर्चा और बातचीत सिर्फ 4 महीने पहले शुरू हुई है और इतने कम समय में बातचीत को अंतिम रूप दिया जाना करीब असंभव है। यूनियनों के नेताओं ने कहा कि यह बातचीत 2018 की शुरुआत तक खिंच सकती है।  
 
वेतन को लेकर होने वाली बातचीत के इस दौर में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक अधिकारियों के लिए बैंकवार वेतन का प्रस्ताव कर सकते हैं, जो इकाई के कर्मचारियों की संख्या पर निर्भर होगा। इस समय सरकारी बैंक गैर निष्पादित संपत्ति के दबाव के दौर से गुजर रहे हैं। बैंक यह भी चाहते हैं कि वेतन को कर्मचारी के प्रदर्शन से जोड़ा जाए, न कि समयावधि के मुताबिक स्वत: बढ़ोतरी का तरीका अपनाया जाए। यूनियनें इस प्रस्ताव का विरोध कर रही हैं। 
कीवर्ड IOB, bank, NPA, IBA,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक