आंध्र बैंक का बड़ा एनपीए लोहा और स्टील उद्योग से

बीएस संवाददाता | हैदराबाद Mar 16, 2018 11:08 PM IST

आंध्र बैंक के कुल गैर निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) में लोहा, स्टील और बुनियादी ढांचा क्षेत्रों की हिस्सेदारी करीब 50 प्रतिशत है। बैंक को चालू वित्त वर्ष में और झटके लगे हैं।  इस साल की पहली तीन तिमाही में बैंक के एनपीए में 58.35 अरब रुपये और जुड़े गए जबकि बैंक इस अवधि में 19.05 अरब रुपये एनपीए कम करने में सफल रहा। परिणामस्वरूप कुल सकल एनपीए बढ़कर 2015.99 अरब रुपये हो गया, जो इस वित्त वर्ष की शुरुआत में 176.7 अरब रुपये था। इस तरह से एनपीए 14.26 प्रतिशत बढ़ा है। बैंक का ज्यादातर बकाया लौह एवं स्टील उद्योग से है, जो एनपीए बन गया है। कुल 78 अरब रुपये बकाये में से 51.18 अरब रुपये बकाया खराब कर्ज में तब्दील हो गया। कुल एनपीए में 41.73 अरब रुपये की हिस्सेदारी के साथ बुनियादी ढांचा क्षेत्र दूसरे स्थान पर है।
कीवर्ड आंध्र बैंक, गैर निष्पादित परिसंपत्ति, एनपीए, लोहा, स्टील, बुनियादी ढांचा,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक