आईओबी का शुद्ध नुकसान 36 अरब रुपये

बीएस संवाददाता |  May 30, 2018 09:33 PM IST

इंडियन ओवरसीज बैंक का शुद्ध घाटा मार्च तिमाही में बढ़कर 36.06 अरब रुपये पर पहुंच गया, जो पिछले साल की समान अवधि में 6.46 अरब रुपये रहा था। आरबीआई के संशोधित ढांचे के मुताबिक प्रावधान करने से बैंक के घाटे में बढ़ोतरी हुई। बैंंक ने कहा, दबाव वाली परिसंपत्तियों के समाधान पर आरबीआई के संशोधित दिशानिर्देश के मुताबिक उच्च प्रावधान के चलते बैंक के घाटे में इजाफा हुआ। संशोधित ढांचे के तहत बैंंक ने इस तरह के खाते के लिए 7.99 अरब रुपये का प्रावधान किया। 

 

तिमाही के दौरान बैंंक की कुल रिकवरी 57.26 अरब रुपये रही, जो पिछले साल की समान अवधि में 27.29 अरब रुपये रही थी।  बैंंक की कुल आय मार्च तिमाही में 3 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 58.14 अरब रुपये पर पहुंच गई, जो पिछले साल की समान अवधि में 56.61 अरब रुपये रही थी। इसका सकल एनपीए बढ़कर 381.8 अरब रुपये पर पहुंच गया, जो इसकी सकल उधारी का 25.28 फीसदी है। पिछले साल की समान अवधि में यह 350.98 अरब रुपये रहा था।
कीवर्ड bank, loan, debt, IOB,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक