'पीएनबी के मास्टरमाइंड को सरकार ने भागने दिया'

बीएस संवाददाता | नई दिल्ली Jun 11, 2018 09:50 PM IST

कांग्रेस ने देश की अर्थव्यवस्था के कुप्रबंधन को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की है, जिसकी वजह से सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वृद्धि दर सुस्त हुई है और बेरोजगारी बढ़ी है। पार्टी ने आरोप लगाया है कि सरकार ने पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) के 14300 करोड़ रुपये के  घोटाले के आरोपी को मेहुल चौकसे और नीरव मोदी को भाग जाने दिया।  पार्टी ने एयर इंडिया के विनिवेश की भ्रमित नीति को लेकर भी सरकार की आलोचना की है।  कांग्रेस ने सरकार के 4 साल पूरे होने पर उसके प्रदर्शन को लेकर पार्टी के  वरिष्ठ आर्थिक जानकार और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सरकार पर हमला बोलने के लिए उतारा। पीएनबी घोटाले के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में चिदंबरम ने कहा, 'मुझे पता है कि सरकार ने उन्हें वापस लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया और यह भी संदेह है कि वह कोई कवायद नहीं कर रहे हैं। हमारी इस मामले में स्थिति हमेशा से स्पष्ट रही है कि सरकार ने दोनों को देश छोडऩे की अनुमति दी। सरकार ने उन्हें देश से चले जाने दिया, इसलिए हमें संदेह है कि वह उन्हें वापस लाने की कवायद करेगी।' 
 
एयर इंडिया के मामले में चिदंबरम ने कहा कि यह साफ नहीं है कि इस मामले में सरकार क्या करना चाहती है। उन्होंने कहा, 'न तो निजीकरण हो रहा है और न ही संयुक्त उद्यम के माध्यम से उसे चलाने की व्यवस्था की जा रही है। स्पष्ट नीति न होने पर आप 74 प्रतिशत हिस्सेदारी नहीं बेच सकते। आपको नीतियों को लेकर स्पष्ट होना होगा।' उन्होंने कहा कि अघर बाजार पूरी तरह से सरकार के उद्देश्यों को लेकर भ्रमित रहेगा तो कोई भी बोली लगाने नहीं आएगा।  चिदंबरम ने कहा कि नोटबंदी की वजह से अर्थव्यवस्था की रफ्तार सुस्त होकर 2017-18 मेंं 6.7 प्रतिशत रह गई, जो 2015-16 में 8.2 प्रतिशत थी, जिससे साबित हुआ कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जीडीपी वृद्धि 1.5 प्रतिशत कम होने का बयान सही था। 
 
उन्होंने आरोप लगाया कि नौकरियां तेजी से जा रही हैं और सरकार ने अक्टूबर दिसंबर 2017 के बाद से तिमाही श्रम ब्यूरो सर्वे रोक दिया है। उन्होंने कहा, 'तिमाही सर्वे का एकमात्र विश्वनीय आंकड़ा श्रम ब्यूरो का है। उन आंकड़ों से पता चलता है कि कुछ हजार नौकरियों का ही सृजन हर तिमाही में हुआ है। यह एक साल में 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने के दावे से कहीं बहुत दूर हैै, जिसका वादा अच्छे दिन के सपने दिखाते समय किया गया था।' उन्होंने कहा कि जीएसटी में तमाम गड़बडिय़ों की वजह से कारोबार प्रभावित हुआ है। चिदंबरम ने कहा कि रिजर्व बैंक के उपभोक्ता विश्वास सर्वे (मई 2018) से पता चलता है कि उस सर्वे में हिस्सा लेने वाले 48 प्रतिशत लोगों का कहना है कि पिछले 12 महीने में अर्थिक स्थितियां खराब हुई हैं। 
कीवर्ड congress, nirav modi, bank, loan, debt, PNB, fraud,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक