पीएनबी धोखाधड़ी : सेबी ने गीतांजलि जेम्स के संबंध में शुरू की जांच

भाषा | नई दिल्ली Feb 16, 2018 05:19 PM IST

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) में 11,400 करोड़ रुपये के घोटाले के सिलसिले में बैंक और गीतांजलि जेम्स के शेयरों की खरीद-फरोख्त और शेयरों की कीमत की दृष्टि से संवेदनशील सूचनाओं की सार्वजनिक घोषणा के नजरिए से जांच शुरू कर दी है। इस घोटाले के सूत्रधार नीरव मोदी अभी फरार हैं। गीतांजलि जेम्स के शेयर में आज भी 20 प्रतिशत की गिरावट आई। सेबी के एक अधिकारी ने कहा कि नियामक बाजार में व्यवहार और ईमानदारी को सबसे अधिक महत्त्व देता है। प्रतिभूति कानून का उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति को अंजाम भुगतना होगा।

उल्लेखनीय है कि जुलाई, 2013 में नैशनल स्टॉक एक्सचेंज ने सेबी के साथ विचार के बाद गीतांजलि जेम्स के प्रमुख और मुख्य प्रवर्तक मेहुल चौकसी और अन्य पर प्रतिभूति बाजार के कानूनों के उल्लंघन के मामले में खरीद-फरोख्त करने की रोक लगाई थी। सेबी और शेयर बाजारों ने मोदी (चौकसी सहित) से संबंधित सभी इकाइयों के शेयर बाजार में खरीद-फरोख्त के ब्योरे का विश्लेषण शुरू कर दिया है। नियामक और एक्सचेंज चौकसी और उनकी सूचीबद्ध इकाई गीतांजलि जेम्स के खुलासा नियमों के उल्लंघन की भी जांच कर रहे हैं। कंपनी ने पिछले सप्ताह बिना उचित वजह के अपने निदेशक मंडल की बैठक को टाल दिया था। चौकसी का फोन बंद था और उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

कीवर्ड सेबी, पीएनबी, धोखाधड़ी, गीतांजलि जेम्स, घोषणा, नीरव मोदी, कानून, मेहुल चौकसी,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक