होम » Commodities
«वापस

मंदडिय़ों की गिरफ्त में सोना, बोली बढ़ाई

राजेश भयानी | मुंबई Aug 25, 2017 09:15 PM IST

सोने के दाम वैश्विक बाजारों में 1,300 डॉलर प्रति औंस और भारत में 29,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास बने हुए हैं, इसलिए मंदडि़ए सोना वायदा में सटोरिया बिकवाली की बोलियां बढ़ाकर अपनी पकड़ मजबूत कर रहे हैं। पिछले सप्ताह सोने को 1,300 डॉलर प्रति औंस से ऊपर प्रतिरोध का सामना करना पड़ा है और तब से यह उस स्तर से नीचे आ गया है और एक सीमित दायरे में बना हुआ है।
हालांकि सोने की कीमतें ऊपर जाने की उम्मीदें हैं। भारतीय कारोबारियों ने मंदडिय़ा दांव बढ़ाए हैं। इसमें ओपन इंटरेस्ट अगस्त में 9,000 से बढ़कर 11,000 लॉट से ऊपर पहुंच गया है, जिसमें खरीद की शीर्ष 10 ओपन पोजिशन 3,691 लॉट हैं, जबकि शीर्ष 10 कारोबारियों की बिकवाली की ओपन पोजिशन 6,334 लॉट हैं। सोना वायदा का मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर सक्रिय कारोबार होता है।
हालांकि सोना वायदा में मंदडिय़ों की गिरफ्त बढ़ती जा रही है, लेकिन कीमतों में बढ़ोतरी के साथ कारोबारी मात्रा में भी गिरावट आ रही है। यह कारोबारियों के सतर्कता बरतने का संकेत है। इसकी एक वजह भी है। शुक्रवार को फेडरल रिजïर्व की चेयरवूमन जेनेट येलेन और यूरोपीय केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष मारियो द्राघी के भाषण होने हैं जो डॉलर और सोने की आगे की दिशा तय कर सकते हैं। ये भाषण इस बात संकेत होंगे कि इन दो प्रमुख देशों में आर्थिक नीतियां क्या करवट ले रही हैं।
सराफा में मंदडिय़ा पॉजिशन रखने वाले एक व्यक्ति ने कहा कि ज्यादातर लोग कोई बड़ी घोषणा नहीं होने की संभावना जता रहे हैं। लेकिन ब्याज दरों और नकदी की स्थिति के बारे में दोनों केंद्रीय बैंकरों के संकेत देखने वाली चीज होगी।
केडिया कमोडिटीज के निदेशक अजय केडिया ने कहा, 'डॉलर सूचकांक 93 के आसपास है और ऐतिहासिक रूप से 92.5 ने एक मजबूत समर्थन स्तर के रूप में काम किया है। आगे इसमें और सुधार के आसार हैं, जो सोने के लिए एक नकारात्मक संकेत है क्योंकि डॉलर की मजबूती सोने के लिए कमजोरी का संकेत है।' ऐसा लगता है कि इसी वजह से सटोरियों ने सोने के अक्टूबर अनुबंधों की शुरुआत में भारी बिकवाली की ओपन पोजिशन बनाई हैं। केडिया हाल के 1,306 डॉलर प्रति औंस के स्तर को मजबूत प्रतिरोधी स्तर मानते हैं।
ऐंजल कमोडिटीज में अनुसंधान प्रमुख अनुज गुप्ता ने कहा, 'तकनीकी रूप से सोना सकारात्मक नजर आ रहा है। हमारा अनुमान है कि लघु अवधि (1 से 3 महीने) में यह 1,320 डॉलर से 1,330 डॉलर का स्तर छू सकता है और इसे 1,250 डॉलर के स्तर पर मजबू समर्थन मिलेगा।' इससे नीचे आने पर कीमतों में गिरावट आ सकती है। अन्यथा सोना 1,320 डॉलर के स्तरों पर बना रहेगा।
एमसीएक्स पर सोने को 28,800 से 28,600 रुपये के स्तरों पर समर्थन मिलेगा। तकनीकी रूप से कीमतों में तेजी का रुख है और इससे सोना 30,300 से 30,500 रुपये के स्तरों पर पहुंच सकता है। 30,500 रुपये के स्तरों से ऊपर सफलतापूर्वक कारोबार करने से सोना 31,000 से 31,500 रुपये स्तरों की तरफ बढ़ेगा।

कीवर्ड Gold, yellow metal, MCX,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक