होम » Commodities
«वापस

त्योहारों पर दिखेगी सोने की बिक्री में चमक

एजेंसियां | नई दिल्ली Oct 08, 2017 09:43 PM IST

सरकार द्वारा सोने की 50,000 रुपये से अधिक की खरीद पर पैन और आधार कार्ड की  अनिवार्यता को वापस लेने के बाद इस बार दीवाली पर बहुमूल्य धातु की बिक्री में बढ़ोतरी की उम्मीद है।  ऑल इंडिया जेम्स ऐंड ज्वैलरी फेडरेशन के चेयरमैन नितिन खंडेलवाल ने कहा कि यह एक बड़ी राहत है। सराफा कारोबारियों और उपभोक्ताओं दोनों के लिए दीवाली का इससे बेहतर तोहफा नहीं हो सकता है। धनतेरस 17 अक्तूबर को है। इस बार धनतेरस पर बिक्री में काफी सुधार की उम्मीद है। धनतेरस के दिन सोना, चांदी और अन्य कीमती सामान खरीदना शुभ माना जाता है। दिल्ली में शनिवार को सोना 30,555 रुपये प्रति 10 ग्राम पर था। वहीं चांदी का भाव 40,600 रुपये प्रति किलो पर चल रहा था। खंडेलवाल ने कहा कि पिछले कुछ महीनों की सुस्ती के बाद हम बिक्री में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे हैं। केरल के कल्याण ज्वैलर्स के निदेशक राजेश कल्याणरमन ने कहा कि यह सकारात्मक कदम है और इससे आगामी दिनों में बिक्री सुधरेगी। उद्योग के आंकड़ों के अनुसार पिछले साल धनतेरस पर सोने और आभूषणों की बिक्री बेहतर मॉनसून और अनुकूल कीमतों की वजह से 25 फीसदी बढ़ी थी। भारत में सालाना 900 से 1,000 टन सोने की खपत होती है।    

कीवर्ड Gold, yellow metal, सोना,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक