होम » Commodities
«वापस

भारत फिर इस्पात का शुद्ध निर्यातक

ईशिता आयान दत्त | कोलकाता Oct 22, 2017 09:43 PM IST

भारत ने सितंबर में शुद्ध निर्यातक की स्थिति फिर से हासिल कर ली है। संयुक्त संयंत्र समिति (जेपीसी) द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले महीने भारत का तैयार इस्पात निर्यात 11.19 लाख टन रहा जबकि आयात 8.1 लाख टन रहा। जेपीसी के अगस्त के आंकड़ों के अनुसार उस महीने भारत शुद्ध आयातक के रूप में तब्दील हो गया था, हालांकि अप्रैल-अगस्त के दौरान संचयी रूप से देश ने अपनी शुद्ध निर्यातक की स्थिति को कायम रखा। अप्रैल-सितंबर की अवधि के दौरान निर्यात 48.52 लाख टन टन रहा, जबकि आयात 43.18 लाख टन था।

 
अप्रैल-सितंबर 2017 में कुल तैयार इस्पात (48.52 लाख टन) का निर्यात पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 60.1 प्रतिशत ज्यादा था, जबकि सितंबर 2017 में कुल निर्यात 11.19 लाख टन रहा जो अगस्त 2017 की तुलना में 20.8 प्रतिशत तक अधिक और सितंबर 2016 की तुलना में 70.6 प्रतिशत अधिक था। अप्रैल-सितंबर के दौरान भारत की कुल तैयार इस्पात खपत में 4.3 प्रतिशत की वृद्धि नजर आई और यह पिछले साल की समान अवधि की तुलना में बढ़कर 4.2883 करोड़ टन हो गई। अप्रैल-सितंबर 2017 के दौरान कच्चे इस्पात का उत्पादन 4.974 करोड़ टन था, जिसमें पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 4.5 प्रतिशत वृद्धि हुई। हालांकि सितंबर 2017 में कच्चे इस्पात का कुल उत्पादन अगस्त 2017 की तुलना में 0.9 प्रतिशत तक गिर गया, लेकिन सितंबर 2016 की तुलना में यह 6.8 प्रतिशत तक अधिक रहा।
कीवर्ड steel, company, import, export,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक