होम » Commodities
«वापस

चावल खरीद 69.89 लाख टन तक पहुंची

भाषा | नई दिल्ली Oct 23, 2017 09:48 PM IST

सरकार ने चालू विपणन सत्र में अब तक 69.89 लाख टन वावल की खरीद की है। पिछले वर्ष इसी अवधि में 69.31 लाख टन खरीद हुई थी। खाद्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है। विपणन वर्ष 2017-18 की चावल खरीद इस महीने शुरू हुई है। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने विपणन सत्र 2016-17 (अक्टूबर से सितंबर) में 381 लाख टन चावल की खरीद की थी। सरकार ने इस वर्ष 375 लाख टन खरीद का लक्ष्य रखा है। 
 
अधिकारी ने बताया कि मंडियों में धान की आवक बढ़ रही है। पिछले सप्ताह तक हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में करीब 111 लाख टन धान की आवक हुई है। एफसीआई और प्रदेश सरकार की एजेंसियों, जो सामान्य तौर पर चावल के रूप में ही खरीद करती हैं, ने अभी तक पंजाब में 41.33 लाख टन और हरियाणा में 28.56 लाख टन चावल की खरीद की है। अधिकारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में खरीद का काम शुरू ही हुआ है और यह काम आने वाले दिनों में गति पकड़ेगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अभी तक 22,000 टन से थोड़े अधिक चावल की खरीद की गई है। 
 
वर्ष 2017-18 के लिए धान के सामान्य ग्रेड किस्म के धान का चावल की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 1,550 रुपये प्रति क्विंटल जबकि धान के ए ग्रेड किस्म के लिए एमएसपी 1,590 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। कृषि मंत्रालय के पहले अनुमान के मुताबिक खरीफ सत्र 2017-18 में चावल उत्पादन नौ करोड़ 44.8 लाख टन होने का अनुमान लगाया गया है जो पिछले साल के उत्पादन स्तर नौ करोड़ 63.9 लाख टन से मामूली कम है।
कीवर्ड agri, farmer, rice, MSP,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक