होम » Commodities
«वापस

खनिज उत्पादन में 9.4 फीसदी तक की बढ़ोतरी

टी ई नरसिम्हन | चेन्नई Oct 30, 2017 10:21 PM IST

इस साल अगस्त (नई सीरीज 2011-12=100) महीने में खनिज उत्पादन के खनन क्षेत्र का सूचकांक 92.7 के स्तर पर आ गया है जिसमें अगस्त 2016 के महीने की तुलना में 9.4 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। अप्रैल-अगस्त 2017-18 के दौरान पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले संचयी वृद्धि में 3.3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। अगस्त 2017 के दौरान देश में खनिज उत्पादन (आणविक और गौण खनिज को छोड़कर) का कुल अनुमानित मूल्य 18,015 करोड़ रुपये था। कोयले का योगदान सबसे ज्यादा 6,158 करोड़ रुपये (34 फीसदी) के स्तर पर था। इसके बाद पेट्रोलियम (कच्चा) 5489 करोड़ रुपये, प्राकृतिक गैस (उपयोग की  जाने वाली) 2225 करोड़ रुपये, लौह अयस्क 1921 करोड़ रुपये, लिग्नाइट 615 करोड़ रुपये और चूना पत्थर 562 करोड़ रुपये। अगस्त 2017 में इन छह खनिजों की कुल कीमत का योगदान करीब 94 फीसदी तक रहा। 
 
अगस्त 2017 में अहम खनिजों के उत्पादन स्तर की बात करें तो कोयला 457 लाख टन, लिग्नाइट 33 लाख टन, प्राकृतिक गैस (उपयोग की जाने वाली) 269 करोड़ घन मीटर, पेट्रोलियम (कच्चा) 30 लाख टन, बॉक्साइट 1990 हजार टन, क्रोमाइट 160 हजार टन, तांबे का घोल 10 हजार टन, सोना 113 किलोग्राम, लौह अयस्क 137 लाख टन, सीसे का घोल 27 हजार टन, मैंगनीज अयस्क 167 हजार टन, जिंक का घोल 115 हजार टन, ऐपटाइट और फॉस्फोराइट 109 हजार टन, चूना पत्थर 253 लाख टन, मैग्नेसाइट 12 हजार टन और हीरा 2906 कैरेट। 
 
अगस्त 2016 के मुकाबले अगस्त 2017 के दौरान अहम खनिजों के उत्पादन में सकारात्मक वृद्धि दिखी मसलन ऐपेटाइट और फॉस्फोराइट (120.1 फीसदी), हीरा (47.9 फीसदी), सीसे का घोल (41.4 फीसदी), बॉक्साइट (25.0 फीसदी), लौह अयस्क (20.6 फीसदी), जिंक घोल (19.4 फीसदी), लिग्नाइट (17.4 फीसदी), कोयला (15.7 फीसदी), चूना पत्थर (10.4 फीसदी), मैंगनीज अयस्क (9.6 फीसदी) और प्राकृतिक गैस (उपयोग करने लायक) (4.5 फीसदी) है। दूसरे अहम खनिजों के उत्पादन में नकारात्मक वृद्धि रही जिनमें मैग्नेसाइट, सोना, तांबे का घोल, क्रोमाइट और पेट्रोलियम शामिल है।
कीवर्ड metal, mining,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक