होम » Commodities
«वापस

जनवरी तक स्वर्ण आभूषण की हॉलमार्किंग होगी अनिवार्य!

भाषा | नई दिल्‍ली Nov 03, 2017 04:40 PM IST

खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने आज कहा कि सरकार देश में बेचे जाने वाले सोने और आभूषणों के लिए कैरेट गणना के साथ उनकी हॉलमार्किंग अनिवार्य करने की योजना बना रही है। भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) द्वारा आयोजित एक आयोजन में पासवान ने संवाददाताओं से कहा, मौजूदा समय में लोगों को पता नहीं होता कि उनके द्वारा खरीदी जाने वाली स्वर्ण आभूषण की गुणवत्ता क्या है। हम स्वर्ण आभूषण की हॉलमार्किंग को अनिवार्य बनाने की योजना बना रहे हैं। यह काम जनवरी तक हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कुछ आभूषणों पर बीआईएस मार्क का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन यह पर्याप्त रूप से उपभोक्ताओं को आभूषणों की गुणवत्ता के बारे में जानकारी नहीं दे पाता। पासवान ने कहा कि प्रस्तावित कानून के तहत हॉलमार्क में आभूषण में इस्तेमाल किए गए सोने के कैरेट के बारे में उल्लेख किया जाएगा। उन्होंने कहा, यह 14 कैरेट, 18 कैरेट और 22 कैरेट वाली तीन श्रेणियों के लिए किया जाएगा।
कीवर्ड स्वर्ण, हॉलमार्किंग, रामविलास पासवान, सोना, आभूषण, कैरेट, बीआईएस, गुणवत्ता,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक