होम » Commodities
«वापस

एनएमडीसी ने रोकी कीमतों में कटौती

टीई नरसिम्हन और दशरथ रेड्डी | चेन्नई/हैदराबाद Nov 19, 2017 09:18 PM IST

सरकारी खनिज उत्पादक कंपनी एनएमडीसी ने कीमतों में कटौती के पहले के एक फैसले पर रोक लगाने का निर्णय किया है। कंपनी चालू वित्त वर्ष में अब तक कीमतें 5.15 फीसदी घटा चुकी है। यह फैसला हाल के सप्ताहों में लौह अयस्क की कीमतों में गिरावट और एनएमडीसी का उत्पादन बढऩे के बाद लिया गया है। फोकस इकोनॉमिक्स रिपोर्ट में कहा गया है, 'भरपूर आपूर्ति और कम मांग के कारण इस साल लौह अयस्क की कीमतें कमजोर हुई हैं। नवंबर की कीमतें पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले 24.2 फीसदी कम हैं।'

 
एनएमडीसी ने पिछले महीने लौह अयस्क की कीमतें घटाई थीं। 5 अक्टूबर से लंप अयस्क की कीमतें 2,300 रुपये प्रति टन और फाइंंस की 2,060 रुपये प्रति टन थीं, जो सितंबर में क्रमश: 2,400 रुपये प्रति टन और 2,160 रुपये प्रति टन थीं। चालू वित्त वर्ष के पहले 7 महीनों यानी अप्रैल से अक्टूबर के दौरान एनएमडीसी ने 182.3 लाख टन लौह अयस्क का उत्पादन किया है और 198 लाख टन की बिक्री। 
 
एनएमडीसी इस्पात मंत्रालय के अधीन है, न कि खनन मंत्रालय के। इस्पात मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी समय-समय पर ये सार्वजनिक बयान देते रहते हैं कि घरेलू इस्पात उत्पादकों को सस्ती दरों पर लौह अयस्क मुहैया कराया जाना चाहिए। एक विश्लेषक ने कहा, ' ऐसा लगता है कि कंपनी इस्पात उत्पादकों और इस्पात मंत्रालय के दबाव में आ गई थी।' आलोचकों का कहना है कि कर्नाटक के होस्पेट क्षेत्र में इस्पात उत्पादक कंपनियों को एनएमडीसी का अयस्क 4,000 रुपये प्रति टन से कम कीमत में  बेचा जा रहा है, जो इस क्षेत्र की खरीदार कंपनियों द्वारा आयातित लागत से भी कम है।
कीवर्ड NMDC, iron ore,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक