होम » Commodities
«वापस

2,000 टन प्याज आयात करेगी एमएमटीसी

भाषा | नई दिल्ली Nov 22, 2017 09:58 PM IST

खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने आज कहा कि बाजार में प्याज की आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश रखने के लिए सरकारी उपक्रम एमएमटीसी 2,000 टन प्याज का आयात करेगी, जबकि नाफेड और एसएफएसी स्थानीय स्तर पर 12,000 टन का खरीद करेगी। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय ने फिर से वाणिज्य मंत्रालय को पत्र लिखा है कि प्याज के निर्यात को हतोत्साहित करने के लिए प्याज पर 700 डॉलर प्रति टन का निर्यात आधार मूल्य फिर से लागू करे। देश के अधिकांश खुदरा बाजार में प्याज की सीमित आपूर्ति के कारण इसकी कीमत बढ़कर 50 से 65 रुपये प्रति किलो हो गई है।
 
पासवान ने कहा कि हमने नेफेड से 10,000 टन की खरीद करने को कहा है और एसएफएसी (लघु कृषक कृषि-व्यवसाय कंसोर्टियम) से सीधे किसानों से 2,000 टन की खरीद करने तथा उपभोक्ता क्षेत्रों में इसे बेचने को कहा है। हमने एमएमटीसी को 2,000 टन का आयात करने को कहा है। अगस्त से प्याज की कीमतों पर दबाव है, लेकिन वे अब अपने शीर्ष पर हैं और सरकार की कोशिश इसकी कीमतों को नियंत्रित करने की है। निजी व्यापारियों ने जहां पिछले कुछ महीनों में 11,400 टन प्याज का आयात किया है। अब सरकारी एजेंसी एमएमटीसी दो किस्तों में 2,000 टन का आयात करने के लिए जल्द ही निविदा जारी करेगी। 
 
निर्यात को हतोत्साहित करने के लिए उन्होंने वाणिज्य मंत्रालय से सिफारिश की है कि वह प्याज पर न्यूनतम निर्यात मूल्य (एमईपी) को पुन: लागू करें जिसे दिसंबर 2015 में समाप्त कर दिया गया था। इस बीच, वाणिज्य मंत्रालय 700-800 डॉलर प्रति टन का एमईपी फिर से लागू करने की तैयारी कर रहा है। उसने इस मामले पर निर्यातकों और अन्य अंशधारकों से पहले ही उनका नजरिया जान लिया है।
कीवर्ड onion, price, import,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक