होम » Commodities
«वापस

एशिया में ईरान का तेल आयात फिसला

रॉयटर्स | टोक्यो Mar 30, 2018 09:48 PM IST

एशिया में प्रमुख खरीदारों द्वारा ईरान के कच्चे तेल के आयात में गिरावट आई है। पिछले साल के मुकाबले फरवरी में तकरीबन 20 प्रतिशत की कमी आई है। सरकार और शिप-ट्रैकिंग के आंकड़े बताते हैं कि भारत के अलावा अन्य सभी ने खरीद को सीमित कर दिया है जिससे तेल आयात गिरकर दो महीने के निचले स्तर पर आ गया है। आंकड़े बताते हैं कि चीन, भारत, जापान और दक्षिण कोरिया ने पिछले महीने ईरान से कुल 16.3 लाख बैरल प्रति दिन (बीपीडी) कच्चे तेल का आयात किया, जो दिसंबर के बाद से सबसे कम मात्रा है।

 
ईरान एशिया में अपने महत्त्वपूर्ण ग्राहकों को बनाए रखने के लिए जोर दे रहा है, लेकिन वह इस बात को लेकर चिंतित है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप विश्व शक्तियों के साथ ईरान के परमाणु समझौते से निकलने की धमकी देंगे। चीन द्वारा फरवरी में किया जाने वाला ईरान के कच्चे तेल का आयात पिछले साल की तुलना में लगभग 28 प्रतिशत घटकर 13 महीने के निम्रतम स्तर 4,74,386 बीपीडी पर आ गया। हालांकि, पिछले महीने देश का कच्चे तेल का कुल आयात 1.5 प्रतिशत बढ़ा। 
 
ईरान से भारत का आयात पिछले महीने 1.3 प्रतिशत बढ़कर 6,55,500 बीपीडी हो गया। कोरिया की खरीद लगभग एक-तिहाई कम हुई है। उद्योग, व्यापार और आर्थिक मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि जापान का आयात पिछले साल की तुलना में 22 प्रतिशत गिरकर 1,80,144 बीपीडी रहा, इस तरह इसमें लगातार दसवें महीने में भी गिरावट आई।
 
कीवर्ड OIL, GAS, OAL,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक