होम » Commodities
«वापस

ओडिशा के खनिकों ने लौह अयस्क की कीमतें घटाईं

दिलीप सत्पथी | भुवनेश्वर Apr 11, 2018 08:46 PM IST

लौह अयस्क कीमतों में की गई 10 प्रतिशत तक की कमी

इस्पात संयंत्रों के लिए लौह अयस्क के राष्ट्रीय उत्पादन और आपूर्ति में 50 प्रतिशत से ज्यादा योगदान देने वाले ओडिशा के खनिकों ने इस साल अप्रैल में किए जाने वाले ताजा आपूर्ति अनुबंधों में अयस्क कीमतें लगभग 10 प्रतिशत तक घटा दी हैं। यह कीमत कटौती ऐसे समय में की गई है जब लौह अयस्क की एक अन्य बड़ी आपूर्तिकर्ता एनएमडीसी ने अप्रैल में कीमतें नहीं बढ़ाने की घोषणा की है। जहां ओडिशा के आपूर्तिकर्ताओं द्वारा लौह अयस्क-फाइन (बारीक) की कीमत 2,200 रुपये प्रति टन से घटाकर 2,000 रुपये की गई है, वहीं लंप (ढेलेदार) अयस्क की कीमतें 4,800 रुपये प्रति टन से घटकर 4,300 रुपये रह गई हैं। पिछले महीने फाइन के लिए कीमतों में 200 रुपये से 250 रुपये की और लंप के लिए 450 से 500 रुपये प्रति टन की गिरावट दर्ज की गई थी।

इस साल जनवरी की तुलना में मौजूदा गिरावट फाइंस के लिए 500 रुपये प्रति टन और लंप के लिए 1,000 रुपये प्रति टन तक की है। जनवरी में ओडिशा में कुछ बड़ी खदानों के बंद होने के बाद आपूर्ति की किल्लत पैदा हो गई जिससे लौह अयस्क की दर काफी बढ़ गई थी। अक्टूबर और जनवरी के बीच लौह अयस्क-फाइंस की कीमत 1,400 रुपये प्रति टन से 2,500 रुपये पर और लंप की कीमत 3,200 रुपये से 5,300 रुपये प्रति टन पर पहुंच गई।

लौह अयस्क कीमतों में गिरावट कुछ बड़ी खदानें पुन: चालू हो जाने के बाद आपूर्ति से जुड़ी चिंताएं दूर होने की वजह से आई है। कुछ खदानें हर्जाने की भुगतान की समय-सीमा 31 दिसंबर 2017 के बाद से बंद थीं। इन खदानों को 2001 से 2011 के दौरान अत्यधिक खनन करने और पर्यावरण तथा वन मानकों के उल्लंघन की वजह से बंद कर दिया गया था। 

खदानें बंद होने से ओडिशा में 2 करोड़ टन लौह अयस्क उत्पादन क्षमता प्रभावित हो गई थी। हर्जाने के भुगतान के बाद बंद खदानें पुन: खुलने और जरूरी मंजूरी के अभाव में 2014 से बंद पड़ी कुछ अन्य खदानों में काम फिर से चालू होने से आपूर्ति में सुधार आया है। पिछले महीने लगभग 2.5 करोड़ टन क्षमता के बहाल होने का अनुमान है जबकि पांच और खदानों को मंजूरी मिलने से अन्य 80 लाख टन क्षमता के इस महीने परिचालन में आने की संभावना है।  एक खनिक ने बताया कि आपूर्ति में सुधार के अलावा स्पंज आयरन और छर्र जैसे उत्पादों की कीमतों में गिरावट से भी लौह अयस्क कीमतों पर दबाव पड़ा है।
कीवर्ड iron ore, steel,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक