होम » Commodities
«वापस

भारत से झींगा आयात पर थाईलैंड करेगा विचार

निर्माल्य बेहड़ा | भुवनेश्वर Apr 29, 2018 09:57 PM IST

थाईलैंड की सरकार ने भारत और मलेशिया से झींगा आयात शुरू करने की अनुमति देने को लेकर अब तक निर्णय नहीं लिया है। भारत से दक्षिण-पूर्व एशिया को होने वाले 1.7 अरब डॉलर (13 अरब रुपये) के समुद्री खाद्य निर्यात में थाईलैंड की हिस्सेदारी करीब 13 फीसदी है। भारत के 5.7 अरब डॉलर के समुद्री खाद्य निर्यात बाजार में इस क्षेत्र की हिस्सेदारी 30 फीसदी है।  चेन्नई में थाई वाणिज्यदूतावास ने हाल ही में एक ई-मेल के जरिये उत्कल चैंबर ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्री (यूसीसीआई) को बताया, 'हमने इसकी पड़ताल की है कि अब तक अधिसूचना में बदलाव नहीं किया गया है लेकिन इसमें संशोधन करने और कारोबार को सुगम करने को लेकर साझेदारों के साथ चर्चा हुई थी।' 

 
पशु स्वास्थ्य के लिए विश्व संगठन के दिशानिर्देशों को मानकर पिछले वर्ष थाईलैंड ने संक्रामक मयोनेक्रोसिस के प्रसार को रोकने के लिए झींगा की पांच किस्मों के लिए आयात लाइसेंस के मामले को रद्ïद कर दिया था।  समुद्री खाद्य परामर्शदाता और यूसीसीआई के महानिदेशक राजेन पढ़ी ने कहा, 'थाईलैंड भारतीय समुद्री खाद्य का परंपरागत साझेदार रहा है। थाईलैंड के सीपी एक्वाकल्चर ने 90 के दशक के शुरू में ओडिशा में मत्स्यपालन की शुरुआत की थी।'  भारतीय निर्यातकों के लिए तीसरा सबसे बड़ा बाजार यूरोपीय संघ (ईयू) ने भी भारतीय समुद्र खाद्य उत्पादों की गुणवत्ता पर संदेह जताया था। ईयू ने भारत में मौजूद सुविधाओं की जांच के लिए एक ऑडिट दल भेजा था। भारतीय झींगा में एंटीबायाटिक्स के उपयोग की बातें लगातार सामने आई थी। उन्होंने भारतीय अधिकारियों के बर्ताव के प्रति भी असंतोष जताया है।   
कीवर्ड sea food, fish,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक