होम » Commodities
«वापस

विद्युत संयंत्र : कोयला आयात गिरा

भाषा |  May 20, 2018 09:44 PM IST

आयातित कोयले से चलने वाली बिजली परियोजनाओं की मांग में गिरावट आने से इस साल अप्रैल माह के दौरान विद्युत संयंत्रों का कोयला आयात 22.23 प्रतिशत घटकर 37.31 लाख टन रह गया। केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के ताजा आंकड़ों के अनुसार, विद्युत संयंत्रों का कोयला आयात पिछले साल के अप्रैल में 47.98 लाख टन रहा था जो इस साल के समान महीने में गिरकर 37.31 लाख टन पर आ गया।  हालांकि आलोच्य माह के दौरान घरेलू कोयले में मिलाने के लिए कोयला आयात 10.78 लाख टन से बढ़कर 14.27 लाख टन पर पहुंच गया। विशेषज्ञों का मानना है कि कोयले की ऊंची अंतरराष्ट्रीय कीमतों के कारण भी इनका आयात गिरा है।  आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल महीने के दौरान टाटा पावर की मुंद्रा अल्ट्रा मेगा पावर परियोजना को पिछले साल के 6.89 लाख टन के मुकाबले इस साल 5.09 लाख टन आयातित कोयला मिला। इसी तरह अदाणी की मुंद्रा परियोजना को मिला आयातित कोयला भी इस दौरान 13.22 लाख टन से कम होकर 0.91 लाख टन रहा है।
एस्सार के सलाया संयंत्र और सिम्हापुरी संयंत्र को इस दौरान आयातित कोयला मिला ही नहीं, जबकि पिछले साल अप्रैल में उन्हें क्रमश: 1.09 लाख टन और 0.04 लाख टन आयातित कोयला मिला था। इससे पहले इस साल के पहले तीन महीनों में बिजली संयंत्रों का कोयला आयात क्रमश: 43.39 लाख टन, 40.60 लाख टन और 43.96 लाख टन रहा था। 
कीवर्ड power, electric, coal,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक