होम » Commodities
«वापस

भारत और चीन करेंगे चाय की अगुआई

भाषा |  May 29, 2018 10:33 PM IST

भारत और चीन अगले दशक में वैश्विक चाय उत्पादन तथा खपत में अगुआ रहेंगे। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) ने आज यह बात कही। संगठन ने जलवायु परिवर्तन के प्रतिकूल प्रभाव से निपटने के लिए तत्काल कदम उठाने की जरूरत पर बल दिया। एफएओ ने ताजी रिपोर्ट में कहा कि दुनिया में काली चाय का उत्पादन 2027 तक बढ़कर 44 लाख टन हो जाने का अनुमान है जो 2017 में 33.3 लाख टन था। वहीं ग्रीन टी का उत्पादन आलोच्य वर्ष में 36 लाख टन हो जाने का अनुमान है जो पिछले साल 17.7 लाख टन था। ग्रीन टी का उत्पादन अगले दशक में 7.5 प्रतिशत से बढ़ेगा जबकि काली चाय में केवल 2.2 प्रतिशत की वृद्धि होगी। 

रिपोर्ट के मुताबिक काली चाय की वैश्विक खपत 2017 में 41.6 लाख टन रहने का अनुमान है जो 2017 में 32.9 लाख टन था। एफएओ ने कहा, वैश्विक चाय खपत और उत्पादन में अगले दशक में वृद्धि का अनुमान है। इसका कारण विकासशील और उभरते देशों में मजबूत मांग है। रिपोर्ट के मुताबिक इससे चाय उत्पादक देशों में ग्रामीण आय के नए अवसर सृजित होंगे और खाद्य सुरक्षा में सुधार होगा। 

कीवर्ड भारत, चीन, चाय उत्पादन,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक