कार्टियर बढ़ाएगी वितरण नेटवर्क

मनीषा पांडेय |  Mar 17, 2010 10:16 PM IST

कार्टियर अन्य कंपनियों की अपेक्षा भारत में कुछ देरी से आई है। लुई वितां, हर्मिस, क्रिश्चियन डियॉर और चैनल जैसे लग्जरी ब्रांड काफी पहले आकर भारत में डेरा डाल चुके हैं।

कंपनी ने अक्टूबर 2008 में नई दिल्ली के इम्पोरियो मॉल में नवरत्न भारत रिटेल के साथ मिलकर अपना पहला स्टोर खोला था। कार्टियर भारत में खास तौर पर चर्चित 'इन्डे मिस्टैरियूज' आभूषण ऑफर कर रही है जिसे जयपुर की शैली में तैयार किया गया है।

कंपनी के स्टोर में इन आभूषणों की शुरुआत 63,000 रुपये मूल्य की अंगूठी के साथ होती है। हाल में ही कंपनी ने एक अनूठी सैंटोस  100 वाच उतारी है जो कार्टियर वाचेज के सैंटोस सीरीज की घडी है। कंपनी भारत में अपनी वितरण प्रणाली के विस्तार में लगी है।

 एक और जहां आभूषण और एक्सेसरीज कार्टियर के स्टोर में उपलब्ध हैं वहीं कंपनी अपने ग्राहकों को हेयर पिन्स, डेस्क क्लॉक्स और परफ्यूम की शीशियां भी उपलब्ध करा रही है। उत्पादों में विविधता के साथ ही कार्टियर भारत के लग्जरी बाजारों में अपनी विरासत को भुनाना चाहती है। भारतीय लग्जरी बाजार में वर्ष 2015 तक 12 गुना बढ़ोतरी की संभावना है।

कार्टियर इंटरनैशनल के मुख्य और कार्यकारी निदेशक बर्नाड फॉर्नस कहते हैं 'कार्टियर ने भारतीय बाजार में अपने आप को बेहतर तरीके से स्थापित किया है। बाजार में अपने को बनाए रखने के लिए कंपनी अपने आर्टिस्टिक एडवांटेज पर ज्यादा भरोसा करती है।' हालांकि, इसमें भी कोई शक नहीं कि चीन के मुकाबले भारत में कंपनी की पहुंच उतनी मजबूत नहीं है।

चीन के शांघाई शहर में कार्टियर ने वर्ष 1992 में ही अपना पहला बुटिक सेंटर खोला था। तब से लेकर अब चीन के 20 विभिन्न शहरों में कंपनी 32 बुटीक खोल चुकी है। इस बाबत फॉर्नस कहते हैं 'अगले चार सालों के भीतर हम 55 बुटिक खोलना चाहते हैं।

कीवर्ड cartier, luxury brand, navratna bharat retail, store, jewellary, china, shanghai,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक