भारत में पंख फैलाने की तैयारी कर रही एयर अस्ताना

भाषा | नई दिल्‍ली Nov 15, 2017 03:56 PM IST

कजाखस्‍तान की प्रमुख एयरलाइंस एयर अस्ताना भारत के दूसरे शहरों में विस्तार की तैयारी में है। कंपनी आने वाले वर्ष में मुंबई समेत देश के दूसरे शहरों के लिए भी उड़ान सेवा शुरू करेगी। कंपनी फिलहाल कजाखस्‍तान के प्रमुख शहर अलमाती से नई दिल्ली और राजधानी अस्ताना से नई दिल्ली के लिए उड़ान सेवा देती है। भारत के लिए सेवा शुरू होने के तेरह साल पूरे होने के मौके पर संवाददाताओं से बातचीत में एयर अस्ताना के अध्यक्ष और मुख्य कार्यपालक अधिकारी पीटर फोस्टर ने कहा, भारत हमारे लिए महत्त्वपूर्ण बाजार है और आने वाले वर्ष में हम अपनी सेवा का विस्तार करेंगे। इसके तहत 2019 में हम मुंबई और अस्ताना के बीच उड़ान सेवा शुरू करेंगे। एयर अस्ताना ने अलमाती और नई दिल्ली के बीच 2004 में सेवा शुरू की थी। वहीं 2 जुलाई, 2017 को एयरलाइंस ने अस्ताना से नई दिल्ली के लिए सीधी उड़ान सेवा शुरू की।

उन्होंने कहा कि हम कजाखस्‍तान से भारत के दूसरे शहरों में उड़ान सेवा शुरू करने के लिए अवसरों को तलाश रहे हैं। कजाखस्‍तान के सरकारी संपत्ति कोष सामरूक काजायना नैशनल वेलफेयर फंड और ब्रिटेन की बीएई सिस्टम की संयुक्त उद्यम है। कजाखस्‍तान सरकार की इसमें 51 प्रतिशत तथा बीएई सिस्टम की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है। कंपनी के अनुसार एयर अस्ताना फिलहाल कजाखस्‍तान और भारत के बीच हर सप्ताह 10 उड़ानों का परिचालन करती है। इसमें अलमाती और नई दिल्ली के बीच दैनिक उड़ान और अस्ताना और नई दिल्ली के बीच सप्ताह में तीन उड़ानें शामिल हैं। यात्रियों की संख्या के बारे में उन्होंने कहा, दोनों देशों के बीच यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कजाखस्‍तान और भारत के बीच हवाई यात्रियों की संख्या 2017 में बढ़कर अब तक 43,459 पहुंच गई जो 2016 के मुकाबले 43 प्रतिशत अधिक है। एयरलाइन के पास 31 विमानों का बेड़ा है और 46 अंतरराष्ट्रीय गंतव्यों समेत कुल 66 मार्गों पर परिचालन करती है। इस मौके पर कजाखस्‍तान के भारत में राजदूत बुलात सारसेनबाएब और एयर अस्ताना के जीएसए (जनरल सेल्स एजेंट) वीरेंद्र तेवतिया भी मौजूद थे।
कीवर्ड भारत, पंख, एयर अस्ताना, कजाखस्‍तान, एयरलाइंस, उड़ान, संपत्ति, कोष,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक