मोनेट की दौड़ में एडलवाइस एआरसी

देव चटर्जी और ईशिता आयान दत्त | मुंबई/कोलकाता Dec 29, 2017 05:22 PM IST

जेएसडब्ल्यू स्टील द्वारा समाधान योजना की पेशकश किए जाने के बाद एडलवाइस ऐसेट रीकंस्ट्रक्शन कंपनी भी मोनेट इस्पात की परिसंपत्तियों को खरीदने की होड़ में शामिल हो गई है। जेएसडब्ल्यू की समाधान योजना में बैंकों से कंपनी के 8900 करोड़ रुपये पर 72 प्रतिशत हेयरकट को कहा गया है। जेएसडब्ल्यू स्टील अब तक मोनेट के लिए समाधान योजना (रिजोल्यूशन प्लान) सौंपने वाली एकमात्र कंपनी रही है। इस घटनाक्रम से नजदीकी से जुड़े एक अधिकारी ने कहा कि एडलवाइस अपना अभिरुचि पत्र पहले ही सौंप चुकी है और आने वाले दिनों में अपनी स्वयं की समाधान योजना पेश करेगी। 
 
मोनेट इस्पात के लिए आखिरी तारीख भी बढ़ाई जाएगी क्योंकि बैंक जेएसडब्ल्यू स्टील के ऑफर को लेकर संतुष्टï नहीं हैं। मोनेट ने नैशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल के समक्ष 90 दिन के विस्तार के लिए आवेदन करने की योजना बनाई है। मोनेट के 180 दिन की अवधि 13 जनवरी को ओर 270 दिन की अवधि 4 अप्रैल को पूरी होगी। इसमें विलंब जेएसडब्ल्यू स्टील के लिए अच्छा है जिसने बैंक द्वारा हेयरकट के आधार पर आयकर को लेकर स्थिति स्पष्ट किए जाने की मांग की है। आगामी बजट में इस मुद्दे पर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना है। रिजोल्यूशन प्रोफेशनल द्वारा संभावित बोलीदाताओं को भेजी जानकारी के अनुसार मोनेट इस्पात ऐंड एनर्जी की ऋणशोधन वैल्यू 2,385 करोड़ रुपये है। 
 
जेएसडब्ल्यू-एआईओएन कैपिटल द्वारा प्रस्तावित एक-मुश्त निपटान रकम 2,470 करोड़ रुपये है। मौजूदा समय में जेएसडब्ल्यू-एआईओएन द्वारा भेजी गई समाधान योजना पर ऋणदाताओं की समिति विचार कर रही है जिसमें कंपनी में पूंजी निवेश भी शामिल है। रिजोल्यूशन प्रोफेशनल समय-सीमा के बाद भी समाधान योजना को स्वीकार कर सकता है और इसे विचार-विमर्श के लिए ऋणदाताओं की समिति के समक्ष रख सकता है। मोनेट के लिए रिजोल्यूशन प्रोफेशनल सुमित बिनानी ने इस बारे में कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।  
कीवर्ड JSW steel, Edelweiss ARC, Monnet,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक