अपनी सकल आय 50,000 करोड़ रुपये तक पहुंचाएगी टाइटन

भाषा | नई दिल्ली Apr 13, 2018 01:26 PM IST

घड़ी, चश्मे और आभूषण इत्यादि बनाने वाली प्रमुख कंपनी टाइटन 2022-23 तक अपनी सकल आय को 50,000 करोड़ रुपये तक पहुंचाने का लक्ष्य लेकर चल रही है। कंपनी को उम्मीद है कि उसका आभूषण कारोबार उसकी बिक्री को बेहतर बनाए रखने में मदद करना जारी रखेगा। शेयर बाजार को दी जानकारी में कंपनी ने बताया कि टाइटन अब अपने सभी कारोबारों के ग्राहकों की संख्या पांच करोड़ तक पहुंचाने के लिए काम कर रही है और इससे उसे 2022-23 तक 50,000 करोड़ रुपये सार्वभौमिक ग्राहक मूल्य (यूसीपी) आय के लक्ष्य को छूने की उम्मीद है। कंपनी ने कहा कि उसके आभूषण कारोबार का कंपनी की आय में सबसे अधिक भागीदार होना जारी रहेगा। यूसीपी से कंपनी का आशय बेचे जाने वाले उत्पादों के अधिकतम खुदरा मूल्य से है। वित्त वर्ष 2016-17 में कंपनी का शुद्ध लाभ 761.86 करोड़ रुपये रहा और उसकी शुद्ध बिक्री 12,717 करोड़ रुपये थी। इसमें कंपनी के आभूषण कारोबार की शुद्ध बिक्री 10,237 करोड़ रुपये रही।
कीवर्ड सकल आय, टाइटन, घड़ी, चश्मे, आभूषण, बिक्री, ग्राहक, यूसीपी, Titan, Revenue, Jewellery, Income,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक