घटेगा प्लास्टिक का इस्तेमाल!

ज्योति मुकुल और अर्णव दत्ता | नई दिल्ली May 28, 2018 10:21 AM IST

हर साल दुनिया में होता है 500 अरब प्लास्टिक थैलियों का इस्तेमाल
हर साल कम से कम 80 लाख टन प्लास्टिक समुद्रों में जाता है
पिछले दशक में पिछली शताब्दी से ज्यादा प्लास्टिक बनाया गया
50 फीसदी प्लास्टिक का उपयोग एकबारगी इस्तेमाल के लिए होता है

आईटीसी, प्रॉक्टर ऐंड गैंबल (पीऐंडजी) हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (एचयूएल) और हल्दीराम जैसी करीब आधा दर्जन कंपनियां और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में कार्बन उपयोग में कटौती की घोषणा करेंगे। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे।

भारत को इस बार विश्व पर्यावरण दिवस की वैश्विक मेजबानी का जिम्मा सौंपा गया है और इसकी थीम प्लास्टिक के प्रयोग को रोकने पर आधारित है। यही कारण है कि सरकार ने उपभोक्ता सामान बनाने वाली इन कंपनियों से प्लास्टिक का इस्तेमाल कम करने का संकल्प लेने को कहा है।

पीऐंडजी पैंपर्स डायपर्स और सैनिटरी नैपकिन ब्रांड व्हिस्पर की प्लास्टिक पैकेजिंग को चरणबद्घ तरीके से समाप्त करने की घोषणा कर सकती है। बीसीसीआई अपने लोकप्रिय टूर्नामेंट आईपीएल के मैचों को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए पहले से ही एक अभियान चला रहा है। एचयूएल के मुख्य कार्याधिकारी और प्रबंध निदेशक संजीव मेहता और कार्यकारी निदेशक प्रदीप बनर्जी तथा प्रिया नायर इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगी।

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि यूनिलीवर ने पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक योजना बनाई है। पिछले दो वर्षों में हमारे संयंत्रों से खतरनाक कचरे का लैंडफिल में जाना पूरी तरह बंद हो गया है, हमने कार्बन डाई ऑक्साइड के उत्सर्जन में कमी की है। साथ ही पानी के इस्तेमाल में भी 50 फीसदी कटौती की गई है। आईटीसी की तरफ से प्रबंध निदेशक संजीव पुरी विज्ञान भवन में होने वाले मुख्य कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

पुरी ने ईमेल से भेजी टिप्पणी में कहा कि ठोस कचरा प्रबंधन की समस्या बहुत बड़ी है और इसके लिए समाज के हर वर्ग को काम करने की जरूरत है। आईटीसी पूरी तरह पर्यावरण संरक्षण के प्रति समर्पित है। मोदी ने रविवार को अपने मासिक कार्यक्रम मन की बात में कहा कि प्लास्टिक प्रदूषण को खत्म करने की मुहिम को सफल बनाने के लिए लोगों को घटिया किस्म की पॉलिथीन और प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

प्लास्टिक प्रदूषण के नकारात्मक प्रभावों से पर्यावरण, वन्य जीवों और जन स्वास्थ्य को बचाने की कोशिश की जानी चाहिए। संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक एरिक सॉल्हीम महाराष्ट्र में 34 से अधिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे जिसमें इलेक्ट्रिक बस के लिए चार्जिंग पॉइंटों का उद्घाटन भी शामिल है।

सॉल्हीम ने एक मैसेज में कहा, 'भारत 2018 के विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर होने वाले समारोहों का शानदार वैश्विक मेजबान होगा। भारत प्लास्टिक प्रदूषण को खत्म करने की दिशा में व्यापक भूमिका निभाएगा।' इस बीच त्रिपुरा सरकार ने प्लास्टिक की थैलियों का चलन चरणबद्घ तरीके से खत्म करने के 15 अगस्त की समयसीमा तय की है। राज्य के मंत्री सुदीप रॉय बर्मन ने हिमालयन क्लीनअप अभियान के तहत लोगों से प्लास्टिक के बदले पर्यावरण के अनुकूल थैलियों का इस्तेमाल करने का आग्रह किया है।

 

कीवर्ड ITC, P&G, HUL, आईटीसी, प्रॉक्टर ऐंड गैंबल, पीऐंडजी, हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड. एचयूएल, हल्दीराम,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक