मूल्यांकन मानक तय करने में मिल सकती है मदद

अमृता पिल्लई | मुंबई Mar 11, 2018 11:07 PM IST

पिछले दिनों भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने टोल ऑपरेट ट्रांसफर (टीओटी) मॉडल पर पहले खेप की बोली आयोजित की,  जो आधार मूल्य से 1.5 गुना ज्यादा रही। टीओटी में इस तरह की जबरदस्त दिलचस्पी के बाद उद्योग जगत के जानकारों का कहना है कि इससे सड़क परिसंपत्तियों के द्वितीयक बाजार के सौदों में सुस्ती आने की संभावना नहीं है। बहरहाल कुछ का यह भी मानना है कि टीओटी बोली से बेहतर मूल्यांकन में मदद मिलेगी। 

 

पिछले 2-3 साल में सड़क क्षेत्र में खूब अधिग्रहण हुए। प्रवर्तक कंपनियों ने अपने कर्ज घटाने के लिए सड़क संपत्तियों की बिक्री की और संपत्ति कम करने की रणनीति अपनाई। उद्योग जगत के जानकारों का मानना है कि अधिग्रहण गतिविधियों में अब ठहराव आएगा, जबकि इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण (ईपीसी) मॉडल बिक्री पूल में और संपत्तियां जोड़ सकता है। 

क्रिसिल रेटिंग के वरिष्ठ निदेशक सचिन गुप्ता ने कहा, 'हम उम्मीद करते हैं कि सड़क क्षेत्र में विलय एवं अधिग्रहण (एमऐंडए) जारी रहेगा और यह बड़े पैमाने पर दो वजहों से होगा। अभी भी तमाम कॉर्पोरेट की मालिकाना वाली संपत्तियां हैं, जो फंसी हुई हैं। यह हमने पहले देखा है और अभी भी यह जारी रहेगा। इसके साथ ही हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले 2 -3 साल में ईपीसी में तेजी से बढ़ रही एचएएम परियोजनाएं पाने वाली कंपनियां बिक्री के लिए सामने आ सकती हैं, क्योंकि कंपनियां अपनी पूंजी मुक्त करने के लिए और तेज वृद्धि के लिए ऐसे कदम उठा सकती हैं।'

करीब 150 अरब से लेकर 180 अरब रुपये के बीच की संपत्तियों का मूल्यांकन निकट भविष्य में बिक्री के लिए हो सकता है। पिछले सप्ताह टीओटी बोली में मैक्वैरी और अशोका बिल्डकॉन का संयुक्त उद्यम सबसे बड़ा बोलीकर्ता बनकर उभरा और टीओटी के पहले चरण में 96.8 अरब रुपये की बोली लगाई।
 
बीओटी परियोजनाओं में निजी कंपनियों की परियोजनाएं फंसी हुई हैं और एनएचएआई टीओटी परियोजनाओं की पेशकश कर रहा है। इक्विरस सिक्योरिटीज के निदेशक देवम मोदी ने कहा कि बीओटी रोड लेना टीओटी से अलग है, जिसमें एनएचएआई की जिम्मेदारी है। एक बार अगर टीओटी बाजाार में आ जाती है तो निश्चित रूप से वह पूरी होगी और उसके मूल्यांकन में भी सुधार हो सकता है, लेकिन सौदा निश्चित रूप से होगा। 8-10 संपत्तियां बिक्री के लिए हैं। मोदी को उम्मीद है कि अगले 3 से 6 महीने में 4-5 सौदे हो जाएंगे।
कीवर्ड एनएचएआई, टोल ऑपरेट ट्रांसफर, टीओटी),

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक