रोजगार सृजन 7 साल के उच्चतम स्तर पर

शुभायन चक्रवर्ती | नई दिल्ली Apr 05, 2018 11:16 PM IST

बड़ी मात्रा में नया कामकाज आने से भारत के सेवा क्षेत्र को मदद मिली है। सेवा क्षेत्र में मार्च माह में वृद्धि दर्ज की गई। निक्केई इंडिया सर्विस पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) से पता चलता है कि रोजगार पिछले 7 वर्ष के उच्च स्तर पर पहुंच गया। पीएमआई मार्च माह में 50.3 अंक पर पहुंच गया जो कि एक माह पहले फरवरी में 47.8 पर था। इसके 50 अंक के ऊपर पहुंचने का मतलब है कि इस क्षेत्र में सुधार हो रहा है। 

फरवरी महीने में सेवा संबंधी गतिविधियां पहली बार सुस्त पड़ी थीं, जिसकी वजह नए कारोबार मिलने में गिरावट थी। आईएचएस मार्किट द्वारा तैयार किए गए पीएमआई सर्वे के मुताबिक मार्च महीने में बढ़ी हुई बाजार गतिविधियों और कुछ मामलों मेंं छूट से सेवा फर्मों को नए ग्राहक मिले।  आईएचएस मार्किट की अर्थशास्त्री और रिपोर्ट की लेखक आशना डोढिया ने कहा, 'भारत की सेवा क्षेत्र की गतिविधियां तिमाही के आखिर में उठापटक के बाद स्थिर हो गई। नया काम मिलने की रफ्तार बढऩे से यह स्थिति बनी है। जो संकेत मिले हैं उनसे मांग स्थिति में सुधार का पता चलता है।' 


इस बीच मौसम अनुरूप समायोजित निक्केई इंडिया कंपोजिट पीएमआई आउटपुट इंडेक्स फरवरी के 49.7 से बढ़कर मार्च में 50.8 अंक पर पहुंच गया। विनिर्माण अैर सेवा दोनों क्षेत्र में वृद्धि से कंपोजिट पीएमआई में सुधार आया है। डोढिया ने कहा, 'कुल मिलाकर फरवरी माह में गतिविधियों में जो गिरावट आई थी वह अल्पकालिक साबित हुई, भारत की सकल आर्थिक गतिविधियां मार्च में वापस वृद्धि के दौर में पहुंच गई। विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि ने एक बार फिर सेवा क्षेत्र के प्रदर्शन को पीछे छोड़ दिया। पिछले कुछ माह से यह रुझान बना हुआ है।' 
कीवर्ड निक्केई, इंडिया, सर्विस, पर्चेजिंग, मैनेजर्स, इंडेक्स, पीएमआई,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक