भाजपा की हार, सह पाएगा शेयर बाजार!

बीएस संवाददाता | मुंबई May 21, 2018 10:38 AM IST

जानकारों ने कहा कि बाजार में बढ़ सकता है तेज गिरावट का दौर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई वाली भारतीय जनता पार्टी को कर्नाटक में लगे झटके से बाजार की मुश्किलें बढ़ेंगी। शनिवार को भाजपा के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा को विश्वास मत से पहले ही त्यागपत्र देना पड़ा जिसके बाद राज्य में कांगेस- जनता दल (सेकुलर) गठबंधन की सरकार बनाने का रास्ता साफ हो गया।

इस घटनाक्रम को अगले साल के आम चुनावों से पहले भाजपा विरोधी पार्टियों को एकजुट करने की मुहिम के तौर पर देखा जा रहा है। प्रभुदास लीलाधर के मुख्य कार्याधिकारी (पोर्टफोलियो मैनेजमेंट सर्विसेज) अजय बोडके ने कहा कि बाजार में जारी तेज गिरावट का दौर आगे और बढ़ सकता है। कर्नाटक में सरकार गठन को लेकर जारी अनिश्चितता के मद्देनजर पिछले सप्ताह बेंचमार्क सूचकांकों में 2 फीसदी की गिरावट देखने को मिली थी जो 2 महीने में उनका सबसे खराब प्रदर्शन है।

ब्रेंट क्रूड के 80 फीसदी प्रति बैरल पहुंचने, रुपये के डॉलर की तुलना में 68 रुपये के पार पहुंचने और 10 साल की परिपक्वता अवधि वाली सरकारी प्रतिभूतियों पर प्रतिफल के 8 फीसदी की तरफ बढऩे से निवेशक धारणा पहले से ही कमजोर बनी हुई थी और अब कर्नाटक के घटनाक्रम से यह और बदतर हो गई। बोडके ने कहा कि भारतीय बाजारों का ध्यान अभी वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से देश की अर्थव्यवस्था पर पडऩे वाले प्रतिकूल प्रभावों और कंपनियों की धीमी कमाई पर है।

अगर भाजपा कर्नाटक में विश्वास मत जीत जाती तो फिर इससे बाजार की धारणा को बल मिलता। बाजार कर्नाटक चुनाव को अगले साल होने वाले आम चुनावों में भाजपा की संभावनाओं की कसौटी के तौर पर देख रहा था। अलबत्ता कुछ विश्लेषकों का मानना है कि कर्नाटक चुनाव के नतीजे बाजार की धारण को प्रभावित नहीं करेंगे क्योंकि निवेशक भाजपा की संभावनाओं का पता लगाने के लिए अगले दौर के राज्य चुनावों का इंतजार करेंगे।

जियोजित फाइनैंशियल सर्विसेज में मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा कि कर्नाटक के राजनीतिक परिणाम का असर ज्यादा दिन नहीं रहेगा। इससे 2019 के आम चुनावों में भाजपा की संभावनाओं पर असर पडऩे की संभावना नहीं है। आम चुनावों से पहले दिसंबर में मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे अहम राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। 

कीवर्ड karnataka, result, market, sensex, dip, भारतीय जनता पार्टी, कर्नाटक, बाजार, गिरावट,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक