चौथी तिमाही में आर्थिक गतिविधियां तेज

ईशान बख्शी | नई दिल्ली May 15, 2018 09:57 PM IST

वित्त वर्ष 2017-18 की चौथी तिमाही में आर्थिक गतिविधियों के रफ्तार पकडऩे की संभावना है, भले ही मार्च महीने में आर्थिक वृद्धि दर सुस्त रही है।  अर्थशास्त्रियों को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में सकल मूल्यवर्धन (जीवीए) 7 से 7.3 प्रतिशत बढ़ेगा, जो वित्त वर्ष 18 की तीसरी तिमाही में 6.7 प्रतिशत था।  वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वृद्धि दर 7.2 से 7.4 प्रतिशत रहने की उम्मीद है, जो वित्त वर्ष 18 की तीसरी तिमाही में 7.2 प्रतिशत थी। 
 
इसकी तुलना में केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) की ओर से जारी दूसरे अग्रिम अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही मेंं जीवीए बढ़कर 6.9 प्रतिशत और जीडीपी वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था। सीएसओ द्वारा चौथी तिमाही के परिणाम की घोषणा इस महीने के आखिर में की जाएगी। औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) के मुताबिक औद्योगिक गतिविधियां मार्च महीने में सुस्त होकर 4.4 प्रतिशत पर पहुंच गईं, जबकि इसके पहले लगातार 4 महीने तक 7 प्रतिशत से ऊपर रही थीं। पूरी चार तिमाही में आईआईपी वृद्धि दर 6.2 प्रतिशत रही, जो वित्त वर्ष 18 की तीसरी तिमाही के 5.9 प्रतिशत और वित्त वर्ष 18 की दूसरी तिमाही के 3.3 प्रतिशत की तुलना में ज्यादा है। इससे पता चलता है कि वस्तु एवं सेवा कर की चिंता दूर होने के बाद से औद्योगिक गतिविधियों में तेज बढ़ोतरी हुई है। 
 
इक्रा में मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नैयर ने कहा, 'वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में आईआईपी की औसत वृद्धि 6.2 प्रतिशत रही, जिसकी प्रमुख वजह विभिन्न क्षेत्रों के कॉर्पोरेट्स की बेहतर कमाई की रिपोर्ट रही। इससे अभी हाल में खत्म हुई तिमाही की जीवीए वृद्धि में तेजी को समर्थन मिल सकता है, भले ही जिंसों के बढ़े दाम की वजह से कमाई पर विपरीत असर पड़ा है।' इक्रा को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में जीवीए 7.3 प्रतिशत रहेगा।  आईआईपी में 77.6 प्रतिशत हिस्सेदारी वाले विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में 7.1 प्रतिशत रही है, जो वित्त वर्ष 18 की तीसरी तिमाही की तुलना में मामूली ज्यादा है। इसमें वित्त वर्ष 18 की दूसरी तिमाही में महज 2.5 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई थी।  इसकी तुलना में दूसरे अग्रिम अनुमानों के आधार पर वित्त वर्ष 18 की चौथी तिमाही में वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है।
कीवर्ड Q4, economy, GDP,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक