प्रदूषण के मद्देनजर दिल्ली में भारत स्टेज-6 वाहन ईंधन की आपूर्ति 1 अप्रैल 2018 से

भाषा | नई दिल्‍ली Nov 15, 2017 04:35 PM IST

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर को लेकर चिंता के बीच सरकार ने अहम फैसला किया है। सरकार ने दिल्ली में भारत स्टेज-6 स्तर के वाहन ईंधन की आपूर्ति निर्धारित समय से दो साल पहले 1 अप्रैल 2018 से करने का निर्णय किया है। पहले इस ईंधन की आपूर्ति 1 अप्रैल 2020 से होनी थी। पेट्रोलियम मंत्रालय ने इस संबंध में तेल विपणन कंपनियों से भारत स्‍टेज-6 स्तर के वाहन ईंधन को अप्रैल 2018 से पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (दिल्ली और उसके आसपास) में उपलब्ध कराने की संभावना पर भी विचार करने को कहा है। मंत्रालय के इस कदम से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने में मदद मिलेगी।

पेट्रोलियम मंत्रालय के यहां जारी बयान के अनुसार, दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर को देखते हुए मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों के साथ विचार-विमर्श कर भारत स्‍टेज-6 स्तर के वाहन ईंधन की आपूर्ति राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 1 अप्रैल 2020 के बजाए दो साल पहले 1 अप्रैल 2018 से लागू करने का फैसला किया है। पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय इससे पहले 1 अप्रैल 2017 से भारत स्टेज-4 स्तर के परिवहन ईंधन को देश भर में सफलतापूर्वक लागू कर चुका है।

यह कदम वाहन उत्सर्जन में कमी लाने तथा ईंधन दक्षता में सुधार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फ्रांस में हुए संयुक्‍त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन, सीओपी 21, में जताई गई प्रतिबद्धता के अनुरूप है। सरकार ने इस दिशा में आगे कदम उठाते हुए विभिन्न पक्षों के साथ विचार-विमर्श के बाद भारत चरण-4 से सीधे भारत चरण-6 में जाने का निर्णय किया ताकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जारी बेहतर गतिविधियों को अपनाया जा सके। तेल रिफाइनिंग कंपनियां बेहतर गुणवत्ता वाले भारत चरण-6 स्तर के ईंधन उत्पादन के लिए परियोजनाओं के उन्नयन में काफी निवेश कर रही हैं।

कीवर्ड प्रदूषण, दिल्ली, भारत स्टेज-6, वाहन ईंधन, पेट्रोलियम मंत्रालय, प्राकृतिक गैस, जलवायु परिवर्तन,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक