... और वाणिज्य मंत्रालय ने बंद कर दिया सौ साल पुराना महानिदेशालय

भाषा | नई दिल्‍ली Nov 15, 2017 05:09 PM IST

वाणिज्य मंत्रालय ने करीब सौ साल पुरानी अपनी सार्वजनिक खरीद इकाई पूर्ति तथा निपटान महानिदेशालय (डीजीएसऐंडडी) को 31 अक्‍टूबर को बंद कर दिया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। इस इकाई को ब्रिटिश शासन के दौरान 1860 में स्थापित किया गया था। इसे बंद करने का निर्णय पिछले साल सार्वजनिक खरीद के लिए सरकारी ई-बाजार (जीईएम) के गठन के बाद लिया गया है।

अधिकारी ने कहा, हमने निदेशालय का परिचालन 31 अक्‍टूबर को बंद कर दिया है। इसे अपेक्षाकृत अधिक पारदर्शी जीईएम मंच से स्थानांतरित किया गया है। विभाग के करीब 1,100 कर्मचारियों को आयकर विभाग समेत विभिन्न विभागों में भेजा जा रहा है। वरिष्ठ अधिकारियों को भी अन्य सरकारी विभागों में भेजे जाने की संभावना है। डीजीएसऐंडडी विभाग की देश भर में स्थित संपत्तियों को शहरी विकास मंत्रालय के भूमि एवं विकास कार्यालय को सौंपा जाएगा। निदेशालय के मुंबई, कोलकाता और चेन्नई समेत चार क्षेत्रीय कार्यालय हैं। यहां उसके मुख्यालय में 12 खरीद निदेशालय हैं। इनके अलावा इसके 20 कार्यालया उपकेंद्र हैं।

कीवर्ड वाणिज्य मंत्रालय, डीजीएसऐंडडी, ब्रिटिश शासन, ई-बाजार, जीईएम, परिचालन, भूमि,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक