हरित मानकों का अनुपालन नहीं करने वाले उद्योग 10 प्रतिशत से बढ़कर 17 प्रतिशत हुए

भाषा | नई दिल्ली Jun 05, 2018 12:06 PM IST

पर्यावरण मानकों का अनुपालन नहीं करने तथा अधिक प्रदूषण फैलाने वाले उद्योग का प्रतिशत 2010 से 2014 के बीच 10 से बढ़कर 17 प्रतिशत पर पहुंच गया है। एक सरकारी रिपोर्ट में यह बताया गया। स्टेट आफ एनवायरनमेंट रिपोर्ट इंडिया, 2015 के अनुसार वर्ष 2014 में केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने 17 श्रेणियों में 3,266 औद्योगिक इकाइयों को उच्च स्तर पर प्रदूषण फैलाने वाली इकाइयों के रूप में चिन्हित किया था।

इसमें से 2,328 पर्यावरण मानकों का अनुपालन कर रही थी। वहीं 571 उद्योग मानकों का पालन नहीं कर रहे थे और 367 उद्योग बंद हो गए। रिपोर्ट में कहा गया है कि उद्योग की बढ़ती संख्या तथा पर्यावरण मानकों के निरंतर अनुपालन नहीं करना चिंता का बड़ा कारण है। इसके अनुसार विश्लेषण से पता चलता है कि कुल औद्योगिक इकाइयों में से 71 प्रतिशत में नियमन के अनुपालन को लेकर पर्याप्त प्रदूषण नियंत्रण सुविधाएं थी।

रिपोर्ट में कहा गया, 'हालांकि नियमन का अनुपालन नहीं करने करने वाले उद्योग का प्रतिशत 2010 के 10 प्रतिशत के मुकबले 2014 में बढ़कर 17 प्रतिशत हो गया। सबसे ज्यादा प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों में केवल 929 औद्योगिक इकाइयों ने प्रदूषण नियंत्रण उपकरण स्थापित किए। वहीं 920 औद्योगिक इकाइयों ने सातों दिन 24 घंटे वास्तविक समय में निगरानी के लिए प्रणाली स्थापित की।'

कीवर्ड pollution, companies, indusrty, CPCB, पर्यावरण मानक, प्रदूषण, स्टेट आफ एनवायरनमेंट रिपोर्ट इंडिया 2015, सीपीसीबी,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक