नई दूरसंचार नीति को फरवरी तक मिल सकता है अंतिम रूप

भाषा | नई दिल्‍ली Nov 07, 2017 05:58 PM IST

केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने आज कहा कि दूरसंचार विभाग (डीओटी) नई दूरसंचार नीति को फरवरी तक अंतिम रूप देने की कोशिश करेगा तथा इसे दिसंबर आखिर तक सार्वजनिक टिप्पणी के लिए जारी करेगा। संचार मंत्री सिन्हा ने यहां संवाददाताओं से कहा, हम नई दूरसंचार नीति फरवरी तक लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए कार्यसमूह ने काम शुरू कर दिया है। हमें मसौदे को दिसंबर के आखिर तक अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है जिसे आम लोगों की राय जानने के लिए रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार को भारतनेट परियोजना का पहला चरण नवंबर तक पूरा होने की उम्मीद है। इसके तहत एक लाख ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोड़ा जाना है।

आधार को मोबाइल नंबर से जोड़ने के सवाल पर दूरसंचार सचिव अरुणा सुंदरराजन ने कहा कि सरकार उन लोगों के मोबाइल नंबर बंद नहीं करेगी जिनके पास आधार यूआईडीएआई नंबर नहीं है। उन्होंने कहा कि आधार रखने वाले जिन लोगों ने अपने मोबाइल नंबर को इससे संबंद्ध नहीं किया है, उनके खिलाफ कार्रवाई के मुद्दे पर विभाग को आधार मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले का इंतजार है। सुंदरराजन ने कहा कि विदेश में लोगों को अपने मोबाइल नंबर आधार के साथ जोडऩे में मदद के लिए कई विकल्पों पर काम किया जा रहा है।

कीवर्ड दूरसंचार नीति, मनोज सिन्हा, डीओटी, भारतनेट परियोजना, ग्राम पंचायत, ब्रॉडबैंड, मोबाइल नंबर,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक