होम » International
«वापस

व्यापार घाटे पर ट्रंप ने साधा चीन पर निशाना

भाषा | वॉशिंगटन May 18, 2018 02:27 PM IST

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने व्यापार घाटे को लेकर एक बार फिर चीन पर निशाना साधा है। ट्रंप का यह बयान उस समय आया, जब अमेरिका और चीन के बीच व्यापार मोर्च पर उच्च स्तरीय बातचीत जारी है। ट्ंरप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, चीन अमेरिका से सालाना सैकड़ों अरब डॉलर लेता है। मैं चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग को स्पष्ट कर देना चाहता हूं, अब हम इसकी अनुमति और नहीं दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि चीन वर्षों से व्यापार कर रहा है और कभी व्यापार समझौते के लिए आगे नहीं आया। इतने वर्षों बाद अब वह व्यापार समझौते पर काम कर रहा है। क्या वह इसमें सफल होंगे? मुझे इस पर संदेह है। 

चीन के अलावा
ट्रंप ने यूरोपीय संघ की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ भी व्यापार के मामले में बहुत खराब हो गया है, अन्य देशों का भी यही हाल है क्योंकि वे जो भी चाहते हैं उसका 100 प्रतिशत उन्हें अमेरिका से मिल जाता है। ट्ंरप ने कहा, अब हम ऐसा और नहीं होने देंगे। हम एक अतुल्य देश रहे हैं। हमारे पास अतुल्य क्षमता है। हमारे पास जो क्षमता है, वह भी अतुल्य है। हमें पिछले वर्ष व्यापार में 800 अरब डॉलर का नुकसान हुआ। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह इसके लिए चीन को दोष नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं हमारे नेतृत्व को दोषी ठहराता हूं। चीन ने हमें ठगा है। चीनी दिग्गज कंपनी जेडटीई को छूट देने के अपने हालिया आदेश को लेकर ट्ंरप ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति चिनफिंग के सम्मान में ऐसा किया है, जिन्होंने इस संबंध में मुझसे अनुरोध किया था।
कीवर्ड डॉनल्ड ट्रंप, व्यापार घाटा, चीन, शी चिनफिंग, यूरोपीय संघ, जेडटीई,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक