होम » Investments
«वापस

हैवेल्स: चौथी तिमाही शानदार वित्त वर्ष 2019 दिख रहा बेहतर

उज्ज्वल जौहरी |  May 13, 2018 09:27 PM IST

हैवेल्स ने मार्च तिमाही के लिए 48 प्रतिशत की मजबूत राजस्व वृद्घि के साथ चुनौतीपूर्ण वित्त वर्ष 2017-18 का समापन किया है। इससे कंपनी के सालाना प्रदर्शन में भी मजबूती आई है। जहां कंपनी को लॉयडï्ïस के एयर कंडीशनर्स (एसी) व्यवसाय के अधिग्रहण से तेजी से मदद मिली, वहीं उसका वित्तीय प्रदर्शन अनुमानों से बेहतर रहा। वित्त वर्ष में नोटबंदी के बाद जीएसटी क्रियान्वयन से पूर्व माल निकालने समेत कई चुनौतियां सामने आईं, लेकिन फिर भी कंपनी के लिए यह वित्त वर्ष राजस्व में दो अंकों की मजबूत वृद्घि के साथ समाप्त हुआ। कंपनी ने इस वित्त वर्ष में राजस्व में दो अंक और परिचालन मुनाफे में 14 प्रतिशत की वृद्घि (अधिग्रहीत लॉयड के व्यवसाय को छोड़कर) दर्ज की। 

 
मार्च तिमाही की राजस्व वृद्घि (लॉयड को छोड़कर) 14 प्रतिशत पर रही और इसे लाइटिंग एंड फिक्सचर्स, इलेक्ट्रिकल कंज्यूमर ड्यूरेबल्स (ईसीडी) और केबल सेगमेंटों से मदद मिली जिनमें सालाना आधार पर 20 प्रतिशत, 19 प्रतिशत और 13 प्रतिशत की मजबूती दर्ज की गई। ईसीडी व्यवसाय (राजस्व में 20 प्रतिशत योगदान) उत्पाद शुल्क के समायोजन के साथ 29 प्रतिशत की तेजी से बढ़ा है और यह लगातार वृद्घि का मुख्य वाहक बना हुआ है। केबल्स सेगमेंट का कंपनी के राजस्व में 30 प्रतिशत का योगदान है और इसमें और तेजी आने के आसार हैं क्योंकि जीएसटी क्रियान्वयन के बाद असंगठित क्षेत्र की तुलना में संगठित क्षेत्र में बिक्री में सुधार आया है। हालांकि स्विचगियर सेगमेंट लगातार धीमी गति (चौथी तिमाही में 5 प्रतिशत) से बढ़ा है, क्योंकि वह नई निर्माण एवं रियल एस्टेट गतिविधियों पर निर्भर है जो फिलहाल सुस्त बनी हुई हैं।
 
बाजार की नजर हालांकि अपेक्षाकृत मजबूत मानी जाने वाली तिमाही में लॉयड की बिक्री वृद्घि पर लगी रहेगी। चौथी तिमाही में बिक्री सपाट रही, लेकिन लॉयड के व्यवसाय का परिचालन मुनाफा मार्जिन मार्च तिमाही के लिए सुधर कर 12.4 प्रतिशत पर पहुंच गया जो वित्त वर्ष 2017 में 6 प्रतिशत पर था। विश्लेषकों का मानना है कि इस व्यवसाय में तेजी आएगी और हैवेल्स को वृद्घि की रफ्तार मजबूत बनाने में मदद मिलेगी।  एचडीएफसी सिक्योरिटीज का मानना है कि लॉयड के प्रदर्शन में भी सुधार देखा जा सकता है। आउटसोर्सिंग (चीन से 80 प्रतिशत) बनाम एसी निर्माण पर 3 अरब रुपये के पूंजीगत खर्च की योजना को देखते हुए विश्लेषक यह मान रहे हैं कि हैवेल्स विकास के अगले दौर के लिए लॉयड को तैयार कर रही है। 
 
लागत दबाव एक चुनौतीपूर्ण कारक बना हुआ है, क्योंकि कच्चे माल की कीमतें बढ़ रही हैं। लेकिन बढ़ते विज्ञापन खर्च, बिक्री और अन्य खर्च के बावजूद अनुकूल उत्पाद समावेश, कीमत वृद्घि और परिचालन दक्षता से हैवेल्स को मुख्य व्यवसाय मार्जिन सालाना आधार पर 119 आधार अंक तक बढ़कर चौथी तिमाही में 14.6 प्रतिशत करने में मदद मिली है। विश्लेषकों का कहना है कि अधिग्रहणों के जरिये दायरा बढ़ाने की क्षमता के साथ साथ घरेलू बाजार में प्रमुख उत्पादों के लॉन्च से भी कंपनी ऊंची जिंस कीमतों के प्रभाव को कम कर सकती है। 
 
इस संदर्भ में, एसी सेगमेंट का दायरे पर निवेशकों द्वारा नजर रखी जाएगी और यह कंपनी के शेयर के लिए विकास का एक मुख्य कारक होगा। हालांकि वित्त वर्ष 2019 की अनुमानित आय के 36 गुना के महंगे मूल्यांकन के बावजूद विश्लेषक इस शेयर पर आश्वस्त बने हुए हैं।  आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज का कहना है कि मुख्य व्यवसाय से मजबूत नकदी प्रवाह के साथ साथ मजबूत बैलेंस शीट से हैवेल्स को किसी अल्पावधि दबाव को दूर करने में मजबूती से मदद मिलेगी। यदि गर्मी की रफ्तार कमजोर रहती है तो इससे लॉयड का एसी व्यवसाय प्रभावित हो सकता है, लेकिन सुधरते मांग परिदृश्य से यह विश्वास मजबूत हुआ है कि हैवेल्स को मुख्य व्यवसाय की मजबूत वृद्घि की रफ्तार को बरकरार रखने में मदद मिलेगी। एचडीएफसी के विश्लेषकों का कहना है कि इससे कंपनी के लिए अल्पावधि में रेटिंग में सुधार की संभावना बढ़ी है। ऊंचे आधार के बावजूद विश्लेषकों को वित्त वर्ष 2019 में हैवेल्स की आय में लगभग 30 प्रतिशत की वृद्घि का अनुमान है। 
कीवर्ड Havells, Q4,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक