भारत केंद्रित ऑफशोर फंड और ईटीएफ में 2.6 अरब डॉलर निवेश

ऐश्ली कुटिन्हो | मुंबई Aug 21, 2017 09:52 PM IST

भारत केंद्रित ऑफशोर फंड और ईटीएफ में जून तिमाही में मजबूती के साथ निवेश हुआ और निवेशकों ने कुल मिलाकर 2.6 अरब डॉलर झोंक दिए, जो पिछली तिमाही में हुए 2 अरब डॉलर के निवेश के मुकाबले ज्यादा है। भारत केंद्रित 10 बड़े ऑफशोर फंड और ईटीएफ की कुल संपत्तियां 7.5 फीसदी की उछाल के साथ 27.3 अरब डॉलर पर पहुंच गई। जापानी फंड ने 1.2 अरब डॉलर का निवेश हासिल किया, जो इस श्रेणी में सबसे ज्यादा है। जून तक छह महीने की अवधि में इस श्रेणी में शुद्ध रूप से 4.6 अरब डॉलर निवेश हुआ जबकि पिछले साल की समान अवधि में 2.3 अरब डॉलर की शुद्ध निकासी हुई थी। यह जानकारी मॉर्निंगस्टार इंडिया के आंकड़ों से मिली। तिमाही के दौरान भारत केंद्रित ऑफशोर फंडों में भारत केंद्रित ऑफशोर ईटीएफ के मुकाबले ज्यादा निवेश हुआ। भारत केंद्रित ऑफशोर फंडों ने करीब 2.1 अरब डॉलर का निवेश हासिल किया जबकि भारत केंद्रित ऑफशोर ईटीएफ में 0.5 अरब डॉलर का निवेश हुआ।
जून तिमाही में उनकी संयुक्त संपत्तियां 10.2 फीसदी बढ़कर 55.2 अरब डॉलर पर पहुंच गई, जिसे मजबूत निवेश और भारतीय इक्विटी में तेजी से सहारा मिला। इसमें ईटीएफ ने 11.5 अरब डॉलर का योगदान किया जबकि ऑफशोर फंडों ने 43.7 अरब डॉलर का योगदान किया। बेंचमार्क बीएसई सेंसेक्स जून तिमाही में 4.4 फीसदी बढ़ा।
मॉर्निंगस्टार के मुताबिक, भारत केंद्रित ज्यादातर ऑफशोर फंड सक्रियता के साथ प्रबंधित होते हैं और इसका खर्च अनुपात करीब 2 फीसदी है जबकि ईटीएफ ाक 0.8 फीसदी। मॉर्निंगस्टार इन्वेस्टमेंट एडवाइजर इंडिया के वरिष्ठ विश्लेषक हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, उच्च खर्च के बावजूद उनकी बढ़ती लोकप्रियता से संकेत मिलता है कि जब भारत में निवेश की बात आती है तो कई विदेशी निवेशक निष्क्रिय निवेश के बजाय सक्रिय प्रबंधन को प्राथमिकता देते हैं।
जापानी फंड नोमूरा इंडिया इक्विटी को तिमाही के दौरान सबसे ज्यादा फायदा हुआ और इसका शुद्ध निवेश 79 करोड़ डॉलर रहा, जो इससे पूर्व तिमाही के 25.7 करोड़ डॉलर के मुकाबले ज्यादा है। इसका शुद्ध निवेश एक साल की अवधि में करीब 1.9 अरब डॉलर रहा, जो भारत केंद्रित ऑफशोर व ईटीएफ में सबसे ज्यादा है।
नोमूरा एशिया सीरीज नोमूरा इंडिया फोकस और ज्यूपिटर इंडिया ने तिमाही में दौरान शुद्ध निवेश के मामले में दूसरा व तीसरा स्थान हासिल किया और इनका निवेश क्रमश: 37.8 करोड़ डॉलर व 26.7 करोड़ डॉलर रहा। 10 सबसे बड़े भारत केंद्रित ऑफशोर फंड और ईटीएफ की कुल संपत्तियां जून 2017 के आखिर में अनुमानित तौर पर करीब 27.3 अरब डॉलर थी जबकि पिछली तिमाही में यह 25.4 अरब डॉलर रही थी। यह ऑफशोर-इंडिया की कुल परिसंपत्तियों की करीब आधी है। 10 अग्रणी फंडों में तीन ईटीएफ आईशेयर एमएससीआई इंडिया, विजडम ट्री इंडिया अर्निंग्स ईटीएफ और लेक्सर एमएससीआई इंडिया ईटीएफ सी शामिल हैं और कुल मिलाकर इनका योगदान करीब 8.3 अरब डॉलर है। अरबदीन ग्लोबल इंडिया इक्विटी फंड को तिमाही के दौरान सबसे कम यानी 29.9 करोड़ डॉलर हासिल हुआ।

कीवर्ड ETF, offshore fund investment,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक