सर्वोच्च स्तर पर पहुंचा सीईएससी का शेयर

अभिषेक रक्षित | कोलकाता Aug 28, 2017 09:52 PM IST

सीईएससी का शेयर सोमवार को बीएसई पर अब तक के सर्वोच्च स्तर 1,020.15 रुपये को छू गया, जो एक दिन पहले के बंद भाव के मुकाबले 6.65 फीसदी ज्यादा है। पिछले साल 29 अगस्त को इसका शेयर 649.90 रुपये पर था, जो आज के मूल्यांकन से 57 फीसदी कम है। विश्लेषकों ने कहा कि कारोबार अलग करने की तारीख पर स्पष्टता के चलते शेयर चढ़ा, जो 1 अक्टूबर को होने की संभावना है। कंपनी सितंबर के आखिर तक जांच-परख (ड््यू डिलिजेंस) पूरा कर सकती है।

 
रिलायंस सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक रूपेश सनखे ने कहा, कारोबार अलग होने के चलते जो कीमत सामने आएगी वह काफी ऊंची होगी। पहले शेयरधारक इस बाबत तारीख को लेकर अनिश्चित थे, लेकिन अब इस पर स्पष्टता देखने को मिल रही है और कारोबार अलग करने की तारीख एक अक्टूबर हो सकती है, ऐसे में शेयरधारक सकारात्मक प्रतिक्रिया जता रहे हैं। उन्होंने कहा, जब कंपनी ने कारोबार अलग करने की प्रक्रिया का ऐलान किया ता तो इसका शेयर मई में 988.30 रुपये को छू गया था, लेकिन इसके बाद से यह करीब 900 के आसपास रहा क्योंकि कारोबार अलग करने की तारीख पर स्पष्टता नहीं थी।
 
एक अन्य विश्लेषक ने कहा, कारोबार अलग करने को कंपनी के लिए बड़ा सकारात्मक माना जा रहा है। सनखे ने कहा, स्पेंसर रिटेल का नुकसान इस योजना में मुख्य बाधा था। अब यह डिविजन लाभ में आने की संभावना है, लिहाजा निवेशकों का भरोसा बढ़ा है। कारोबार अलग करने की योजना के तहत समूह के बिजली कारोबार को दो इकाई निर्माण व वितरण में बांट दिया जाएगा जबकि स्पेंसर रिटेल की अगुआई में खुदरा इकाई तीसरी कंपनी बन जाएगी। कंपनी के बाकी कारोबार बीपीओ इकाई फस्र्टसोर्स सॉल्यूशन, क्वेस्ट प्रॉपर्टीज इंडिया, एफएमसीजी डिविजन गिल्टफ्री आदि मिलाकर चौथी कंपनी बनेगी। कारोबार अलग करने की योजना के तहत सीईएससी लिमिटेड के 10 शेयरों के बदले कंपनी सीईएससी लिमिटेड व सीईएससी जेनरेशन के 10 रुपये वाले पांच शेयर की पेशकश करेगी। स्पेंसर रिटेल के 5 रुपये वाले छह शेयर और सीईएससी वेंचर्स के 10 रुपये वाले दो शेयर मिलेंगे। 
 
सिमैनटेक संग एयरटेल का करार
 
देश में कारोबारों में साइबर सुरक्षा की बढ़ती जरूरत को देखते हुए देश की अग्रणी मोबाइल ऑपरेटर भारती एयरटेल ने एंटरप्राइजेज को साइबर सुरक्षा समाधान मुहैया कराने की खातिर सिमैनटेक के साथ साझेदारी की है। गठजोड़ के तहत एयरटेल सिमैनटेक की एक्सक्लूसिव साइबर सुरक्षा सेवा साझेदार होगी और सिमैनटेक के सुरक्षा सॉफ्टवेयर का वितरण करेगी। इसका प्राथमिक लक्ष्य मौजूदा एंटरप्राइज ग्राहकों तक पहुंचने का है।
 
दोनों कंपनियों के बीच साझेदारी का ऐलान भारत व विश्व में बढ़ते साइबर हमले के बीच हुआ है। सरकार को भी साइबर सुरक्षा का महत्व पता चल गया है और वह देश में साइबर सुरक्षा से जुड़े बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने पर काम कर रही है। भारती एयरटेल के प्रबंध निदेशक व सीईओ (भारत व दक्षिण एशिया) गोपाल विट्ठल के मुताबिक, देश में कारोबारों के लिए साइबर सुरक्षा अहम हो गई है क्योंकि साइबर हमले लगातार होने लगे हैं। हाल में पेट्या व वन्नाक्राई जैसे साइबर हमले ने दुनिया भर के सिस्टम्स को अïवरोधित कर दिया था। इस तरह के खतरे को देखते हुए कारोबार अब साइबर सुरक्षा में निवेश कर रहे हैं।
कीवर्ड share, market, sensex, बीएसई, कंपनी, शेयर,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक