इंटरग्लोब शेयर बेचने में रही कामयाब

बीएस संवाददाता | मुंबई Sep 15, 2017 10:03 PM IST

इंटरग्लोब एविएशन आज 3,800 करोड़ रुपये के शेयर बेचने में कामयाब रही। कंपनी ने 3.36 करोड़ शेयरों के लिए संस्थागत नियोजन कार्यक्रम (आईपीपी) 25 फीसदी न्यूनतम सार्वजनिक शेयरधारिता के अनुपालन के लिए पेश किया था, जिसमें करीब 3.9 करोड़ शेयरों के लिए बोली मिली। यह जानकारी स्टॉक एक्सचेंजों के आंकड़ों से मिली। आईपीपी का कीमत दायरा 1,125 रुपये से 1,175 रुपये प्रति शेयर तय किया गया था, जो बुधवार के बंद भाव 1,198.5 रुपये के मुकाबले करीब छह फीसदी कम है जब शेयर बिक्री का ऐलान किया गया था। निवेश बैंकिंग के सूत्रों ने कहा कि ज्यादातर बोली 1,150 रुपये प्रति शेयर पर लगाई गई। इंटरग्लोब का शेयर आज 0.3 फीसदी टूटकर 1,181.3 रुपये पर बंद हुआ।
 
सूत्रों ने कहा कि शेयर बिक्री में विदेशी संस्थागत निवेशकों व म्युचुअल फंडों ने हिस्सा लिया। एक चौथाई शेयर देसी म्युचुअल फंडों व बीमा कंपनियों के लिए आरक्षित थे। प्रति निवेशक अधिकतम बोली करीब 950 करोड़ रुपये की अनुमति थी। सेबी के नियम के मुताबिक, आईपीपी कार्यक्रम के तहत कम से कम 10 निवेशकों को शेयरों का आवंटन किया जाना चाहिए, वहीं एक निवेशक को शेयर बिक्री का अधिकतम 25 फीसदी आवंटित किया जा सकता है। सूत्रों ने कहा कि कुछ निवेशकों ने शाम 5 बजे आईपीपी कार्यक्रम समाप्त होने से ठीक पहले बड़ी रकम के आवेदन डाले। सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स, जेपी मॉर्गन इंडिया और मॉर्गन स्टैनली इंडिया ने इस शेयर बिक्री का कामकाज संभाला।
 
इस शेयर बिक्री में करीब 2,600 करोड़ रुपये के नए शेयर और प्रवर्तक राकेश गंगवाल व अन्य के 1,200 करोड़ रुपये के द्वितीयक शेयर शामिल हैं। पेशकश दस्तावेज में विमानन कंपनी ने कहा था कि वह शेयर बिक्री से मिलने वाली रकम का इस्तेमाल विमानों के अधिग्रहण, ग्राउंड सपोर्ट उपकरणों की खरीद और कर्ज के पुनर्भुगतान में करेगी, जिनमें विमानों के लिए वित्तीय पट्टा शामिल है। शेयर बिक्री से पहले इंटरग्लोब में प्रवर्तक की हिस्सेदारी (जो देश की सबसे ज्यादा लाभदायक विमानन कंपनी इंडिगो का परिचालन करती है) 85.85 फीसदी थी। अब प्रवर्तक की हिस्सेदारी 10 फीसदी घटकर 75.85 फीसदी रह जाने की संभावना है।
 
इंटरग्लोब ने अक्टूबर 2015 में आईपीओ पेश किया था। सेबी के नियम के मुताबिक प्रवर्तक हिस्सेदारी 75 फीसदी से नीचे लाए जाने के लिए इसके पास अगले साल अक्टूबर तक का समय है। इंटरग्लोब ने आईपीओ में 765 रुपये के भाव पर शेयर जारी किए थे। दो साल पहले पेश आईपीओ के बाद से अब तक शेयर 57 फीसदी चढ़ा है। इंटरग्लोब के लिए 12 महीने की लक्षित कीमत 1,265 रुपये है, जो मौजूदा स्तर से महज छह फीसदी ज्यादा है। इस शेयर को 10 ब्रोकरोंं से खरीद की रेटिंग, छह ने निवेशित रहने की रेटिंग और दो ने बेचने की सलाह दी है। यह जानकारी ब्लूमबर्ग के आंकड़ों से मिली। पिछले महीने एक रिपोर्ट में इलारा कैपिटल ने इंटरग्लोब को 1,737 रुपये के लक्ष्य के साथ खरीद की रेटिंग दी थी। 
कीवर्ड share, market, sensex, बीएसई, कंपनी, शेयर,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक