विस्तार पर 4,000 करोड़ रु. निवेश करेगी हिंडाल्को

जयजित दास | भुवनेश्वर Oct 16, 2017 10:11 PM IST

आदित्य बिड़ला समूह की कंपनी हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने पश्चिमी ओडिशा में हीराकुड डाउनस्ट्रीम मिल के विस्तार की योजना बनाई है। यहां फ्लैट स्टील उत्पाद बनता है और इसकी क्षमता 1.35 लाख टन सालाना के मुकाबले 3.75 लाख टन करने पर कंपनी 4,000 करोड़ रुपये निवेश करेगी। हिंडाल्को इंडस्ट्रीज के प्रमुख (संबलपुर क्लस्टर) आर के गुप्ता ने कहा, विस्तार पूरा करने के लिए हम पास में 100 एकड़ जमीन तलाश रहे हैं। हीराकुड एफआरपी में विनिर्मित ज्यादातर उत्पादों का निर्यात होता है। हम ऐसे उत्पादों की अच्छी मांग से दो-चार हो रहे हैं और यह हमारे विस्तार कार्यक्रम को आगे बढ़ा रहा है।

 
समूह की कंपनी आदित्य एल्युमीनियम के पास संबलपुर जिले के लापंगा में 3.6 लाख टन सालाना क्षमता वाला एल्युमीनियम स्मेल्टर है और इसे 900 मेगावॉट वाले सीपीपी का समर्थन हासिल है। इसके पास रोल्ड प्रॉडक्ट, एक्सट्रूशन प्रॉडक्ट्स व वायर रॉड के लिए भी एफआरपी संयंत्र है। स्मेल्टिंग यूनिट के पास वायर रॉड कंडक्टर बनाने की सुविधा स्थापित करने के लिए हिंडाल्को अपार इंडस्ट्रीज के साथ बातचीत कर रही है। गुप्ता ने कहा, हम अपार इंडस्ट्रीज को जमीन की पेशकश नहीं करने जा रहे हैं, लेकिन हमने उन्हें मोल्टन एल्युमीनियम की आपूर्ति के बारे में आश्वस्त किया है। 
 
अपार इंडस्ट्रीज पावर ट्रांसमिशन कंडक्टर्स, पेट्रोलियम स्पेशियलिटीज, बिजली व दूरसंचार केबल में वैल्यू ऐडेड उत्पाद व सेवाओं की पेशकश करती है। हिंडाल्को के आदित्य स्मेल्टर को उत्कल एल्युमिना लिमिटेड से एल्युमिना मिलता है, जो हिंडाल्को इंडस्ट्रीज की 100 फीसदी हिस्सेदारी वाली सहायक है। हिंडाल्को दक्षिण ओडिशा के रायगढ़ स्थित एल्युमिना रिफाइनिंग यूनिट की क्षमता विस्तार पर भी विचार कर रही है। उन्होंने कहा, हमारा इरादा उत्कल रिफाइनरी की क्षमता मौजूदा 15 लाख टन सालाना से बढ़ाकर 30 लाख टन सालाना करने का है। शुरू में यह क्षमता बढ़ाकर 20 लाख टन की जाएगी। पहले चरण में हमारा निवेश करीब 1,000 करोड़ रुपये हो सकता है।
 
कीवर्ड birla, hindalco,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक