इंडिगो प्रमुख ने कहा, शांति से काम करें कर्मचारी

अरिंदम मजूमदार | नई दिल्ली Nov 10, 2017 09:56 PM IST

इंडिगो के अध्यक्ष आदित्य घोष ने शुक्रवार को कंपनी के कर्मचारियों के लिखे पत्र में कहा है कि वे शांति से अपना काम करें क्योंकि कंपनी अब तक सबसे खराब जनसंपर्क संकट का सामना कर रही है। घोष ने कहा, हमने गलती की, हमने माफी मांगी, हमने कार्रवाई की और यह समय आगे बढऩे का है। सोशल मीडिया पर वायरल हुए व स्थानीय समाचार चैनल पर दिखाए गए एक वीडियो में इंडिगो के कम से कम दो कर्मचारी हवाईअड्डे पर एक यात्री को पीटते हुए दिखे हैं।
 
हालांकि नागरिक उड्डयन मंत्री को लिखे सात पन्ने की रिपोर्ट में इंडिगो ने वीडियो के कई स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल कर इस घटना की वजह बताने की कोशिश की है और यह भी लिखा है कि यात्री व कंपनी के कर्मचारी के बीच क्या बातें हुई। घोष ने कहा कि इस आलोचना का जवाब देने का एकमात्र तरीका यात्रियों को खुश करना है। उन्होंने कहा, उन्हें जवाब देने का एकमात्र तरीका यह है कि हमारे पास लाखों संतुष्ट ग्राहक हों। शांत रहिये, उकसावे में मत आइये और सिर्फ अपनी ड््यूटी निभाते रहिये।
 
बेड़े के आकार और बाजार हिस्सेदारी के लिहाज से इंडिगो देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी है और भारत में यह सबसे ज्यादा यात्रियों को ढोती है। घोष ने कहा, जिस तरह की शिष्टता आदि के लिए हम जाने जाते हैं उसमें कोई भी आपके कठिन कार्य से इनकार नहीं कर सकता। ट्रैवल इंडस्ट्री के सूत्रों ने संकेत दिया कि इस घटना का विमानन कंपनी की बुकिंग पर कोई असर नहीं पड़ा है और न ही टिकट रद्द कराए गए हैं। उच्च किराए के बावजूद इसके टिकटों की बिक्री सामान्य से ज्यादा रही है, साथ ही बहुत ज्यादा टिकट रद्द नहीं हुए हैं। इंडिगो रोजाना करीब 8,000 टिकट बेचती है।
कीवर्ड aviation, विमानन indigo,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक