माइक्रोसॉफ्ट का साइबर सुरक्षा पर जोर

करण चौधरी | नई दिल्ली Nov 22, 2017 09:49 PM IST

प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख वैश्विक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने आज कहा कि वह भारत में साइबर सुरक्षा सेवाओं में काफी निवेश करेगी। कंपनी ने कहा है कि वह विभिन्न मोर्चों पर सरकार के साथ बातचीत कर रही है। कंपनी साइबर सुरक्षा पर सालाना करीब एक अरब डॉलर खर्च करती है और उसमें से अधिकांश रकम भारत में खर्च की जाती है। साइबर क्षेत्र के आगामी वैश्विक सम्मेलन ग्लोबल कॉन्फ्रेंस ऑफ साइबर स्पेस (जीसीसीएस2017) से पहले साइबर सुरक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने और साइबर स्वच्छता के लिए कंपनी देश भर में अभियान भी चला रही है। पिछले साल कंपनी ने इंडिया साइबरसिक्योरिटी एंगेजमेंट सेंटर को शुरू किया था। पिछले एक साल के दौरान इस केंद्र ने 126 संगठनों तक अपनी पहुंच बनाई और उन्हें गंभीर सूचनाओं के बुनियादी ढांचे की सुरक्षा के बारे में जानकारी और तकनीकी से अवगत कराया। साथ ही केंद्र ने इन संस्थानों को मालवेयर को घटाने और देश में डिजिटल जोखिम से निपटने में भी मदद की।
 
ऐसे आठ केंद्रों के वैश्विक नेटवर्क के हिस्से के तौर पर इस केंद्र ने सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के संस्थानों के साथ बेहतर साइबर सुरक्षा भागदारी में माइक्रोसॉफ्ट की दक्षता को  प्रदर्शित किया है। साथ ही इस केंद्र ने एक भरोसेमंद एवं सुरक्षित कंप्यूटिंग वातावरण तैयार करने में मदद की है जो भारत को डिजिटल बदलाव के लिए कहीं अधिक समर्थ बनाएगा। माइक्रोसॉफ्ट के निदेशक (साइबर सुरक्षा नीति- यूरोप, पश्चिम एशिया एवं अफ्रीका) जान न्यूट्ïज ने कहा, 'भारत सरकार निजी क्षेत्र संग भागीदारी के साथ-साथ कानून एवं नीति जरिये साइबर सुरक्षा में समग्र दिलचस्पी दिखा रही है। यूरोप निश्चित तौर पर इस क्षेत्र में अग्रणी बनने की कोशिश कर रहा है। हमने यहां साइबर सुरक्षा क्षेत्र के निवेश में उल्लेखनीय वृद्धि की है।'
 
माइक्रोसॉफ्ट उन कंपनियों के एक समूह का हिस्सा भी है जो देश में साइबर हमलों एवं साइबर धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों से निपटने में सरकार की मदद भी करेंगी। इसी क्रम में मंत्रालयों, बैंकों और सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के करीब 1,200 आईटी अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रौद्योगिकी एवं साइबर सुरक्षा क्षेत्र की कई अन्य प्रमुख कंपनियां भी साइबर सुरक्षित भारत प्रोग्राम का हिस्सा हैं।
कीवर्ड microsoft, satya nadela, cyber,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक