नियो के नाम से टाटा नैनो का इलेक्ट्रिक अवतार जल्द

टी ई नरसिम्हन और सोहिनी दास | चेन्नई/अहमदाबाद Nov 23, 2017 09:59 PM IST

टाटा नैनो जल्द ही इलेक्ट्रिक अवतार के रूप में नियो के नाम से पेश की जाएगी। कुछ लोग इसे ब्रांड नैनो को धीरे-धीरे समाप्त करने के तौर पर पहले कदम के रूप में देख रहे हैं, जो एक दशक पहले पेश किए जाने के बाद से अब तक भारतीय कार खरीदारों को उत्साहित करने में नाकाम रही है। नैनो के नए अवतार में इसे मूल तौर पर विकसित करने वाली टाटा मोटर्स की भूमिका बहुत ज्यादा नहीं होगी।

 
कोयंबटूर की जेयम ऑटोमोटिव टाटा मोटर्स के साथ मिलकर इलेक्ट्रिक कार नियो पेश करने के लिए तैयार है। समझा जाता है कि टाटा कोयंबटूर की इस कंपनी को बॉडी शेल की आपूर्ति करेगी, जो पावरट्रेन और इलेक्ट्रिक मोटर लगाकर नियो को बाजार में उतार देगी। सूत्रों ने दावा किया कि पहला 400 नियो अग्रणी टैक्सी एग्रीगेटर कंपनियों के लिए होगा और उन्हें जल्द ही यह सौंपा जाएगा। इस साल मार्च में टाटा और जेयम ऑटोमोटिव ने विशेष प्रदर्शन वाले वाहन विकसित करने के लिए 50-50 फीसदी हिस्सेदारी वाला संयुक्त उद्यम जेटी स्पेशल व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड गठित किया है।
 
जेयम ने इस बात की पुष्टि की है कि वह इलेक्ट्रिक कार नियो की पेशकश के साथ काफी आगे है, लेकिन इसकी विस्तृत जानकारी देने से मना कर दिया। टाटा मोटर्स ने इस मसले पर टिप्पणी नहीं की। 48 वोल्ट वाली नियो की असेंबलिंग व इसका विपणन जेयम ऑटो करेगी और यह एक बार चार्ज होने पर एसी के साथ 150 किलोमीटर का सफर तय कर सकेगी। जेयम ऑटो के प्रबंध निदेशक जे आनंद ने कहा, नियो में हम जिस इलेक्ट्रिक सिस्टम का इस्तेमाल करेंगे वह इलेक्ट्रा ईवी ने हमें दिया है। इलेक्ट्रा ईवी एक तकनीकी कंपनी है जो इलेक्ट्रिक ड्राइव सिस्टम को विकसित करती है और इसका उत्पादन भी। कारों की पहली खेप की आपूर्ति जल्द की जाएगी।
 
विगत वर्षों में नैनो की बिक्री लगातार टाटा मोटर्स को परेशान करती रही है, लेकिन कंपनी ने अब तक इस कार को बाहर निकालने पर टिप्पणी नहींं की है यानी इसका उत्पादन बंद करने पर कुछ नहीं कहा है। अक्टूबर 2016 में टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री ने शेयरधारकों को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि नैनो लगातार नुकसान उठा रही है और यह नुकसान 1,000 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।  टाटा संस के चेयरमैन के हवाले से हाल में कहा गया है कि छोटी कार को बंद करना या इसे जीवन देना टाटा मोटर्स लिमिटेड के सामने अरबों डॉलर का सवाल नहीं है। वास्तव में उन्होंने यहां तक कहा है कि यह टाटा मोटर्स के यात्री कार के सालाना नुकसान का महज 4 फीसदी है।
कीवर्ड tata, naino, neo, car,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक