व्हाट्सऐप मामले में सेबी ने शुरू की पड़ताल

श्रीमी चौधरी | मुंबई Dec 22, 2017 09:43 PM IST

बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने सोशल मीडिया पर कंपनियों की आय एवं दूसरी संवेदनशील जानकारी अवैध तरीके से सार्वजनिक करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी मुहिम चलाई है। सेबी के अधिकारियों के अनुसार ऐसे करीब 34 लोगों की शिनाख्त हुई है और आज मुंबई में उनसे पूछताछ की गई। कंपनी के अधिकारियों के अलावा इन लोगों में वे ब्रोकरेज इकाइयां व फर्में शामिल हैं, जिन्हें सोशल मीडिया पर कीमतों को लेकर संवेदनशील जानकारी आधिकारिक खुलासे से पहले ही मिल गई थी।
 
सूत्रों ने कहा कि यह पहला मौका है जब सेबी ने बड़ी कंपनियों के खिलाफ इतना बड़ा अभियान शुरू किया है। सेबी के करीब 30 अधिकारी और 70 पुलिसकर्मी जांच-पड़ताल में लगाए गए। एक अधिकारी ने बताया, 'पड़ताल पूरी हो चुकी है। हमें अपने अभियान के दौरान सभी परिसरों में डिजिटल उपकरण मिले, जिन्हें हम सेबी के कार्यालय ले आए हैं। हमें महत्त्वपूर्ण दस्तावेज भी मिले हैं, जो हमें मामले की तह तक जाने में मदद कर सकते हैं।' 
 
नियामक मुख्यत: भेदिया कारोबार निषेध दिशानिर्देशों के संभावित उल्लंघन की जांच करेगा। अगर नियामक को और भी संवेदनशील जानकारी हाथ लगी तो वह मामले को आयकर विभाग जैसी एजेंसियों के पास भेज देगा। पिछले महीने सेबी संवेदनशील जानकारी कथित तौर पर सार्वजनिक होने के मामले में डॉ. रेड्डïीज, सिप्ला, ऐक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, टाटा स्टील, विप्रो और बजाज फाइनैंस जैसी दर्जनों कंपनियों के खिलाफ जांच कर चुका है। 17 नवंबर को समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने इन 12 कंपनियों का जिक्र किया था, जिनकी सितंबर तिमाही की आय के आंकड़े विभिन्न निजी व्हाट्सऐप ग्रुप में साझा किए जा रहे थे। 
कीवर्ड whatsapp, sebi, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी),

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक