केबल परियोजना के लिए खुद रकम जुटाएगी आरकॉम जीसीएक्स

रोमिता मजूमदार | मुंबई Jan 16, 2018 10:06 PM IST

रिलायंस कम्युनिकेशंस की पूर्ण हिस्सेदारी वाली कंपनी ग्लोबल क्लाउड एक्सचेंज (जीसीएक्स) ने कहा है कि 60 करोड़ डॉलर की ईगल एक्सप्रेस केबल परियोजना के लिए कंपनी खुद ही वित्तीय संसाधन जुटाएगी। इस परियोजना से इटली को मुंबई के रास्ते हॉन्गकॉन्ग से जोड़ा जाएगा। 68,000 किलोमीटर लंबी यह केबल परियोजना समुद्र के भीतर से होकर गुजरेगी और इसके जरिये यूरोप और एशिया में डेटा का पारेषण किया जा सकेगा। आरकॉम के मुख्य कार्याधिकारी बिल बर्नी ने कहा कि अलीबाबा सहित कई साझेदार कंपनियों ने परियोजना के लिए करीब 50 फीसदी फाइनैंस का वादा किया है। उल्लेखनीय है कि अनिल अंबानी की अगुवाई वाली आरकॉम पर 45,000 करोड़ रुपये का कर्ज है और वह उपभोक्ता वायरलेस कारोबार से पिछले साल हट गई। बर्नी ने कहा कि इटली से मुंबई के बीच ईगल वेस्ट परियोजना के तहत केबल बिछाने का काम दो साल में पूरा हो जाएगा। इसकी एक शाखा जिबूती में भी होगी जिससे कंपनी को अफ्रीकी देशों में प्रवेश मिलेगा। मुंबई से हॉन्गकॉन्ग के बीच ईगल ईस्ट परियोजना के 2020 की तीसरी तिमाही में शुरू होने की उम्मीद है। इससे एक अरब डॉलर सालाना कारोबार की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि नई केबल से उसकी कुल क्षमता 10 गुना बढ़ जाएगी।
 
बर्नी ने कहा कि क्लाउड और फाइबर परियोजनाओं से 5 साल में जीसीएक्स का कारोबार तिगुना हो सकता है। जीसीएक्स ने पिछले साल अप्रैल में चीन की दिग्गज कंपनी अलीबाबा की क्लाउड यूनिट अलीबाबा क्लाउड एक्सप्रेस के साथ साझेदारी की घोषणा की थी। साथ ही उसने उभरते बाजारों में अपने डेटा केंद्र बढ़ाने की भी योजना बनाई थी। इस परियोजना के लिए कंपनी कुल 6 कंपनियों के साथ साझेदारी करेगी जिनमें से 4 पहले ही उससे जुड़ चुकी हैं। इनमें अमेरिका की कुछ प्रमुख कंपनियां भी शामिल हैं। 
कीवर्ड rcom, reliance, anil ambani, bank,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक