आभासी मुद्रा निवेशकों को आयकर नोटिस

सोमेश झा और दिलाशा सेठ | नई दिल्ली Jan 19, 2018 09:41 PM IST

आयकर विभाग ने  आभासी मुद्राओं (क्रिप्टोकरेंसी) में निवेशकरने वाले कुछ लोगों को नोटिस थमाए हैं। विभाग ने नोटिस में नोटबंदी के दौरान आभासी मुद्रा में निवेश की गई रकम की जानकारी मांगी है। नोटिस में पूछे गए 28 सवालों में विभाग ने 8 नवंबर और 31 दिसंबर 2016 के बीच भारत और विदेश में बिटकॉइन में निवेश/बिकवाली या किसी दूसरी आभासी मुद्राओं में निवेश की जानकारियां तलब की हैं। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के एक अधिकारी ने नोटिस भेजे जाने की पुष्टिï की। अधिकारी ने कहा,'हमने कुछ मामलों में आभासी मुद्राओं में निवेश करने वाले लोगों को नोटिस भेजे हैं। ये ऐसे मामले हैं, जिनमें निवेश ऐसे लोगों की घोषित आय से मेल नहीं खाते हैं।'
 
नोटिस भेजने से पहले आयकर विभाग ने कर चोरी का संदेह होने पर देश भर के क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों पर सर्वेक्षण किया था। इसके एक सप्ताह बाद विभाग ने नोटिस भेजना शुरू ककिया। सूत्रों ने कहा कि सर्वेक्षण के दौरान विभाग ने एक्सचेंजों में आभासी मुद्राओं में निवेश करने वाले सभी लोगों की पड़ताल की। विभाग ने वित्त वर्ष 2015-16, 2016-17 और 2017-18 के लिए निवेशकों और उनके परिवार के लोगों के बैंक खातों की सूचनाएं भी देने के लिए कहा है। साथ ही इन वित्त वर्षों के दौरान आभासी मुद्राओं में किए गए निवेश पर 'लाभ या हानि की गणना' की जानकारी भी देने के लिए कहा है। भारतीय रिजर्व बैंक आभासी मुद्र्राओं में निवेश को लेकर लोगों को कई बार आगाह किया है। 
कीवर्ड bitcoin, money, currency,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक