वृद्घि की राह पर लौटी नेस्ले

अर्णव दत्ता | नई दिल्ली Apr 16, 2018 09:53 PM IST

राजस्व के लिहाज से देश की सबसे बड़ी फूड एवं बेवरिज कंपनी नेस्ले इंडिया वर्ष 2017 में अपनी सभी उत्पाद श्रेणियों में बिक्री वृद्घि दर्ज करने में कामयाब रही। जहां कंपनी ने पिछले कुछ वर्षों में (2015 को छोड़कर) अपनी बिक्री में इजाफा दर्ज किया है, वहीं कई वर्षों के बाद वह समग्र वृद्घि दर्ज करने में भी सफल रही है। कंपनी की सालाना रिपोर्ट के अनुसार कैलेंडर वर्ष 2017 के दौरान चार बड़ी उत्पाद श्रेणियों - दुग्ध उत्पाद एवं पोषण, वहीं प्रेपर्ड डिशेज एंड कुकिंग ऐड्ïस, पाउडर एंड लिक्विड बेवरेज और कन्फेक्शनरी की बिक्री में इजाफा दर्ज किया गया।
 
दुग्ध उत्पाद एवं पोषण कंपनी की सबसे बड़ी श्रेणी है और उसके राजस्व में इसका लगभग 47.6 फीसदी का योगदान है। इस श्रेणी के राजस्व में कंपनी ने 1.6 फीसदी का इजाफा दर्ज किया।  वहीं प्रेपर्ड डिशेज एंड कुकिंग ऐड्ïस कंपनी के लिए कई वर्षों से मजबूती दिलाने वाली एकमात्र श्रेणी है। इस श्रेणी को मैगी ब्रांड से बड़ी मदद मिली है। हालांकि 2015 में इसकी बिक्री घट गई थी क्योंकि मैगी पर जांच के बादल छाने से कंपनी प्रभावित हुई। लेकिन 2015 के अंत में सुधार के साथ इस श्रेणी ने 2016 और 2016 में 71.5 प्रतिशत तक की तेजी दर्ज की और उसकी वृद्घि दर 19 फीसदी दर्ज की गई। 26.7 फीसदी पर इसका मौजूदा योगदान भी मैगी पर प्रतिबंध से पूर्व के 31 प्रतिशत के स्तर के लगभग समान ही है।
 
पाउडर एंड लिक्विड बेवरेज का कंपनी के राजस्व में 13.7 प्रतिशत का योगदान रहा और इसमें 10.6 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है। वहीं कंपनी की सबसे छोटी श्रेणी 'कन्फेक्शनरी' में भी सुधार आया है। इस श्रेणी की बिक्री में 4.3 प्रतिशत तक का इजाफा दर्ज किया गया है। विश्लेषकों के अनुसार, नेस्ले की बिक्री में सुधार उन पहलों का परिणाम है जो कंपनी द्वारा पिछले दो वर्षों में चलाई गई थीं। बिक्री के मोर्चे पर 2015 में कमजोरी दर्ज करने के बाद नेस्ले ने अन्य उत्पाद श्रेणियों पर ध्यान केंद्रित किया। तब से कंपनी ने सभी श्रेणियों में अपने पोर्टफोलियो को मजबूत बनाया है और मैगी पर अपनी निर्भरता घटाई है। वर्ष 2016 के दौरान, उसने अपने मैगी नूडल्स वैरिएंट का विस्तार करने के साथ साथ दुग्ध एवं पोषण, कन्फेक्शनरी और बेवरेज पोर्टफोलियो के तहत दो दर्जन से अधिक नए उत्पाद पेश किए। 
 
वर्ष 2017 में कंपनी ने अपना ध्यान अपने ब्रांड के पुनर्निर्माण पर केंद्रित किया और उन सुरक्षा पहलुओं पर खास जोर दिया जिनकी वजह से शुरू में उसका व्यवसाय प्रभावित हुआ था।  एडलवाइस सिक्योरिटीज के वरिष्ठï उपाध्यक्ष अबनीश रॉय ने कहा कि नेस्ले की आपूर्ति शृंखला ने उपभोक्ता-केंद्रित वृद्घि को मजबूत बनाने और कंपनी को बढ़त दिलाने की दिशा में सराहनीय कार्य किया। नेस्ले इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सुरेश नारायणन के अनुसार, तेज और अनुभवी होने की वजह से कंपनी के लिए नए अवसर बेहद महत्त्वपूर्ण साबित होंगे। 
कीवर्ड nestle, food,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक