डेक्कन क्रॉनिकल पर 78.60 अरब का ऋण

बी दशरथ रेड्डी | हैदराबाद Apr 24, 2018 09:46 PM IST

डेक्कन क्रॉनिकल होल्डिंग्स लिमिटेड के ऋणदाताओं और संभावित खरीदारों को संभावित दिवालिया समाधान योजना पर आगे बढऩे से पहले 78.60 अरब रुपये के भारी-भरकम ऋण बकाये पर मुश्किल फैसला लेना पड़ सकता है। इसकी वजह यह है कि कर्ज में दबी इस मीडिया कंपनी की देनदारियां उसकी संपत्तियों एवं आमदनी से काफी अधिक हैं।  समाधान पेशेवर ममता बिनानी ने चालू दिवालिया समाधान प्रक्रिया में 78.60 अरब रुपये का ऋण बकाया स्वीकार किया है। समाधान पेशेवर ने 30 अरब रुपये के ऋण दावों को नामंजूर कर दिया है।

 
केनरा बैंक ने मई, 2017 में एक आवेदन दायर कर एनसीएलटी के हैदराबाद पीठ से डेक्कन क्रॉनिकल के खिलाफ दिवालिया समाधान प्रक्रिया शुरू करने का आग्रह किया था। कंपनी की समाधान प्रक्रिया के लिए एक माह पहले 8 कंपनियों ने अभिरुचि पत्र सौंपे हैं, जिनमें से दो बड़े मीडिया घराने भी शामिल हैं। सूत्रों ने बिज़नेस स्टैंडर्ड को बताया कि इन कंपनियों में से किसी ने भी 20 अप्रैल की उस अधिसूचना का जवाब नहीं दिया है, जिसके जरिये समाधान पेशेवर ने इच्छुक खरीदारों से 27 अप्रैल तक अपनी समाधान योजना आमंत्रित की हैं। 
कीवर्ड Deccan Chronicle Holdings Limited,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक