यात्री वाहनों की रफ्तार बरकरार

शैली सेठ मोहिले | मुंबई May 01, 2018 09:37 PM IST

नए वित्त वर्ष में अधिकतर कंपनियों की यात्री वाहन बिक्री ने बेहतरीन शुरुआत की। देश की शीर्ष 6 वाहन निर्माता कंपनियों द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार यात्री वाहन बिक्री अप्रैल में सालाना आधार पर 11.5 प्रतिशत बढ़कर 2.69 लाख वाहन रही। भारत में ऑटो कंपनियां डीलर को वाहन देना बिक्री में शामिल करती हैं।  बेहतर आर्थिक वृद्धि दर की आशा, मॉनसून के अनुकूल रहने और नए मॉडल के लॉन्च ने विश्व के सबसे तेजी से बढ़ते ऑटो बाजार में वाहन बिक्री को बढ़ाया। अप्रैल माह में लगातार छठे माह वाहन बिक्री में तेजी आई। इससे पहले वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के आने से पैदा अवरोधों के कारण दिसंबर 2017 में यात्री वाहन बिक्री में गिरावट आई थी। 
 
देश में प्रत्येक दूसरा यात्री वाहन बेचने वाली मारुति सुजुकी की बिक्री अप्रैल माह में पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 13.4 प्रतिशत बढ़कर 1,63,434 इकाई रही। कंपनी के कॉमपैक्ट मॉडल की हिस्सेदारी 32 प्रतिशत बढ़ी, जिसमें स्विफ्ट, इग्निस, सेलीरियो, बलेनो, डिजायर और टूर एस शामिल हैं। इस श्रेणी में बलेनो के साथ ही फरवरी में लॉन्च हुई नई जनरेशन स्विफ्ट का बिक्री बढ़ी। केवल 2 महीनों में नई जनरेशन स्विफ्ट की 1 लाख बुकिंग की गर्ईं। कंपनी के प्रवक्ता का कहना है कि मारुति को अभी 28,000 वाहन कार की डिलीवरी करना बाकी है। इस समय कंपनी द्वारा बेचा जाने वाला दूसरा मॉडल कॉम्पैक्ट वाहन है। कंपनी की पुरानी पहचान वैगनआर और ऑल्टो जमीन खो रही हैं। प्रीमियर वाहनों की ओर ग्राहकों का रूझान बढऩे से इन दोनों की बिक्री सालाना आधार पर 2.8 प्रतिशत गिरी है। 
 
देश में दूसरी सबसे अधिक वाहन बिक्री ऑर्डर लेने वाली कंपनी हुंडई मोटर इंडिया की बिक्री भी बढ़ी। क्रेटा एसयूवी और आई20 हैचबैक बनाने वाली कंपनी अप्रैल में कुल 46,735 वाहन की बिक्री की, जो पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 4.4 प्रतिशत अधिक है।  नया वर्ष महिंद्रा एंड महिंद्रा के लिए भी अच्छा रहा और इसकी बिक्री अप्रैल माह में सालाना आधार पर 13 प्रतिशत बढ़कर 21,927 इकाई रही।  अपने प्रमुख प्रतिस्पर्धी महिंद्रा के करीब पहुंचते हुए टाटा मोटर्स की बिक्री लगातार बढ़ रही है। नए मॉडलों के उतारे जाने के बाद पिछले एक साल के दौरान कंपनी बिक्री 34 फीसदी बढ़कर 17,235 वाहन हो गई। टाटा मोटर्स के अध्यक्ष (यात्री वाहन कारोबार इकाई) मयंक पारीक ने कहा, 'बाजार में मौजूद तमाम चुनौतियों के बावजूद टियागो, टिगोर, नेक्सन और हेक्सा जैसे नए मॉडलों की जबरदस्त मांग से वृद्धि को बल मिला।'
 
टोयोटा किर्लोस्कर मोटर की बिक्री रफ्तार पिछले महीने सुस्त रही। महीने के दौरान कंपनी ने 13,037 वाहनों की बिक्री की, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 12,964 वाहनों की बिक्री की थी। पिछले महीने टोयोटा ने यारिस के साथ इस प्रतिस्पर्धी श्रेणी में कदम रखा। यारिस की बिक्री इसी महीने शुरू होने वाली है। फोर्ड इंडिया एकमात्र ऐसी वाहन कंपनी है जिसकी बिक्री अप्रैल में घट गई। कंपनी ने 7,428 वाहनों का लदान किया जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 5.4 फीसदी कम है। फोर्ड ने पिछले महीने कॉम्पैक्ट यूटिलिटी व्हीकल फोर्ड फ्रीस्टाइल को बाजार में उतारा था।
कीवर्ड vehicle, car, electric, petrol, diesel,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक